सोरायसिस का सफल इलाज – सोराइसिस, सिरोसिस के लक्षण, आयुर्वेदिक व होम्योपैथिक उपचार

सोरायसिस बीमारी

सोरायसिस आहार 2017  : आज के समय में इंसान की खूबसूरती ही उसके लिए सब कुछ हैं| आज बहुत से लोग दूसरो को उनकी खूबसूरती से परखते हैं| अगर आपकी त्वचा की खूबसूरती आपके लिए इतनी महत्वपूर्ण हैं तो सोचिये की आपकी खूबसूरती ही ना रहे तो| बहुत सी ऐसी बीमारिया या ऐलर्जी हैं जिसकी वजह से आपकी त्वचा की खूबसूरती मिट जाती हैं| ऐसी एक बीमारी सोरायसिस हैं| इसके कारण आपकी त्वचा पर एक खुरदुरी त्वचा आ जाती हैं| यह एक प्रकार की अलेर्जी हैं जो आपकी ऊपरी त्वचा के सेल्स को नुक्सान पहुँचाती हैं और उसे डैमेज कर देती हैं| आज के इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे की सोरायसिस क्या हैं इन हिंदी, सोरायसिस के लक्षण, सोरायसिसके आयुर्वेदिक एवं घरेलु उपाय इन हिंदी जिसको पढ़कर आपको उस बीमारी के बारे में और जानने को मिलेगा|

यह भी देंखे :साइटिका का घरेलू इलाज

सोरायसिस बीमारी

यह एक प्रकार की त्वचा रोगी बीमारी हैं जिसमे आपकी ऊपरी त्वचा के सेल्स को नुक्सान हो जाता हैं और इसके ऊपर एक सख्त खुरदुरी त्वचा आ जाती हैं जो की एक ऐलर्जी की तरह दिखती हैं| यह आपकी चमड़ी पर होने वाली एक बीमारी हैं| इसमें आपकी त्वचा के डैमेज सेल्स के ऊपर एक मोटी त्वचा चढ़ जाती हैं जो की सफ़ेद होती हैं| यह रोग पूरी दुनिया में से सिर्फ दो प्रतिशत लोगो में ही पाया जाता हैं| इसके कारण आपकी त्वचा लाल रंग की हो जाती हैं और उसपर जलन मचने लगती हैं|

सोरायसिस का सफल इलाज

सोराइसिस का इलाज

इस बीमारी को छाल रोग भी खा जाता हैं| इंसान के शरीर में हर 4-5 दिन में नई त्वचा बनती हैं| सोरायसिस में इस नई त्वचा के बनने से पहले ही वो त्वचा खराब हो जाती हैं| इस बीमारी का सही समय पर इलाज करना जरुरी हैं क्योकि अगर इसका सही समय पर इलाज नहीं हुआ तो यह बीमारी पूरे शरीर पर भी फ़ैल सकती हैं|

सोरायसिस के लक्षण

सोरायसिस बार बार होने वाली बीमारी हैं| इसके कई लक्षण हैं जिससे आप इस बीमारी के होने का पता लगा सकते हैं|

  • शरीर के जिस हिस्से पर यह बीमारी होती हैं वहां जलन मचने लग जाती हैं|
  • सोरायसिस वाली जगह लाल पड़ जाती हैं और इसमें खुजली मचने लग जाती हैं|
  • इसमें कभी-2 त्वचा सूजने भी लग जाती हैं|
  • इसमें त्वचा पर धब्बे पड़ने लग जाते हैं|
  • सोरायसिस वाली खाल से खून भी निकलने लगता हैं|
  • इसमें शरीर के जोड़ो में भी दर्द होने लगता हैं|

सोरायसिस का होम्योपैथिक इलाज – सोरायसिस ऐतिहासिक उपचार

आज के समय में इस बीमारी के लिए बहुत सी अंग्रेजी दवाई आ गई हैं जिसका असर तो होता हैं पर वो बहुत महँगी होती हैं| उसे हर कोई नहीं खरीद सकता| इसी वजह से भारत में होमयोपथिक क्षेत्र में बहुत सी सस्ती और असरदार ओषधि आई हैं जिसका सेवन करके आप इस रोग से मुक्ति पा सकते हैं|

  • नेट्रम सल्फ
  • मेडोराइनम
  • लाईकोपोडियम
  • सोराइन्म
  • आर्सेनिक अल्ब्म,सल्फर
  • ग्रफाइट्स
  • इत्यादि अत्यंत कारगर
  • लक्षणानुसार मरक्यूरस सौल

यह भी देंखे :मधुमक्खी के डंक के उपचार – घरेलू उपाय व इलाज

सिरोसिस का आयुर्वेदिक इलाज – सोरायसिस वर उपचार

आज के समय में बहुत से आयुर्वेदिक और घरेलु नुस्खे हैं जिससे आप बिना कोई महँगी दवाई ख़रीदे हुए इस बीमारी का इलाज कर सकते हैं| उस सब आयुर्वेदिक नुस्खो के बारे में हम आपको बताते हैं|

  • अगर आप एलोवेरा के पत्ते का सफ़ेद जैल अपनी त्वचा पर लगाएंगे तो आप सोरायसिस से मुक्ति प्राप्त कर सकते हैं|
  • ग्लिसरीन के इस्तमाल से आपकी त्वचा सोरायसिस से मुक्त हो जाती हैं|
  • मुलेठी आपकी त्वचा के लिए फायदेमंद होती हैं| इसके इस्तेमाल से आपकी शरीर की रेडनेस दूर हो जाती हैं|
  • यदि आप अपनी सोरायसिस वाली त्वचा पर हल्दी लगाते हैं तो वो जल्द ठीक हो जाएगी|
  • बहुत से डॉक्टर सोरायसिस में जैतून के तेल की मालिश करने को कहते हैं|
  • यदि आपको त्वचा रोग हैं तो आप लहसून का पेस्ट लगाकर उस बीमारी से मुक्ति पा सकते हैं|
  • इस बीमारी में आइस पैक भी फायदेमंद हैं|

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*