oats khane k fayde in Hindi | जई के फायदे

oats khane k fayde in Hindi | जई के फायदे

ओट्स क्या है : ओट्स को हिंदी में जई भी कहते है ओट्स पृथ्वी पर स्वास्थ्यप्रद अनाज है यह एक लस मुक्त साबुत अनाज और महत्वपूर्ण विटामिन, खनिज, फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट का एक बड़ा स्रोत है ओट्स के सेवन से वजन घटाने, स्किन संबधी समस्याओ में सुविधा रहती है और इससे हृदय रोग का खतरा भी कम हो जाता है यह इस वजह से होता है क्योकि जई में कॅल्शियम, पोटेशियम, फास्फोरस अच्छी मात्रा में पाया जाता है | ओट्स आपको हेल्थी और फिट रखते हैं इसलिए सुबह के नाश्ते में ज़्यादातर लोग oats खाना पसंद करते हैं |

यह भी देखें:

ओट्स इन हिंदी

ओट्स किसे कहते है यानी की जई क्या होती है व उसके फायदे, ओट्स बनाने की विधि, ओट्स क्या होते, ओट्स कैसे बनाये जानने के लिए पढ़ें निचे –

ओट्स के फायदे

ओट्स के फायदे

ओट्स से कई तरह के फायदे होते है जिनमे से कुछ फायदे आज हम आपको बतायंगे जो आपकी सेहत के लिए लाभदायक सिद्ध हो सकते है जिन लोगो कई तरह की अलग अलग प्रकार की बीमारिया होती है उन कुछ ऐसी बीमारिया जिनमे ओट्स फायदा पहुचाता है और उन बिमारियो को जड़ से ख़तम करने में मदद करता है | यह हैं कुछ ओट्स खाने के फायदे :

  • जई कोलेस्ट्रॉल के स्तर एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करने में रक्षा करते है : विश्व में ह्रदय रोग मौत का प्रमुख कारण है जो ह्रदय रोग शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढने की वजह से होता है कई अध्ययनों से ये सामने आया है की जई में बीटा-ग्लूकॉन होता है जो की कोलेस्ट्रॉल के स्तर को काम करने में प्रभावी है जई की वजह से ऑक्सीकरण से एलडीएल कोलेस्ट्रॉल का स्तर काम होता है जिससे की ह्रदय रोग का खतरा काम हो जाता है
  • जई से ब्लड शुगर पर नियंत्रण रहता है : ब्लड शुगर यानि की मधुमेह की बीमारी जिस बीमारी की शिकायत कई लोगो को होती है तो आज हम जानेगे की कैसे ओट्स यानि की जई के सेवन से कैसे मधुमेह पर नियंत्रण किया जा सकता है जैसा की हम जानते है की ब्लड शुगर एक आम बीमारी है जो की मीठा अधिक मात्रा में सेवन करने की वजह से होती है और जई के माध्यम से हम शुगर पर नियंत्रण रहता है जो लोग मोटापे के शिकार या मधुमेह 2 के शिकार होते है जई उनके शरीर में शुगर की मात्रा को काम करने का काम करता है घुलनशील फाइबर बीटा-ग्लूकॉन के कारण, जई इंसुलिन के प्रति संवेदनशीलता में सुधार और कम रक्त शर्करा के स्तर में मदद कर सकता है।
  • जई के सेवन से मोटापा कम करना : ओटस मील यानि की दलिया यह एक बहुत लाभदायक पदार्थ होता है जिसके माध्यम से हम अपने मोटापे को भी काम सके सकते है इसका सेवन हम सुबह के नाश्ते के रूप में भी कर सकते है जिससे की कैलोरी की मात्रा आपके शरीर में बढ़ेगी और आपका वजन काम हो जायेगा |
  • त्वचा की देखभाल में ओट्स मदद करता है : वैसे तो ओट्स कई प्रकार के स्किन प्रोडक्ट्स में पाया जाता है क्योंकि ओट्स स्किन के लिए बहुत ही अच्छा होता है इसमें कोलायडीय ओटमील होता है जो की इचि और ड्राई स्किन के लिए बहुत लाभदायक होता है एक्जिमा सहित कई प्रकार की त्वचा की विभिन्न समस्याओ को ओट्स राहत प्रदान करता है इसके सेवन से त्वचा की सभी बीमारिया दूर रहती है |
  • ओट्स बचपन के अस्थमा में भी मदद करता है : अस्थमा एक बहुत पुरानी बीमारी है जो की बच्चो में होती है कई अध्ययनों से पता चला है की ओट्स के सेवन से अस्थमा की बीमारी में राहत मिली है एक अध्ययन की रिपोर्ट में ये सामने आया की अगर 6 महीने से पहले बच्चो को जई का सेवन कराया जाये तो उससे अस्थमा की बीमारी का खतरा काम हो जाता है |

यह भी देखें :

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*