मनुष्य की उत्पत्ति कैसे हुई – मनुष्य का जन्म कैसे हुआ – Manushya Ki Utpatti Kaise Hui In Hindi

मनुष्य की उत्पत्ति कैसे हुई

कहा जाता हैं की मनुष्य इस धरती का पहला प्राणी था| धरती की कुछ ऐसी सच्चाईया हैं जिनसे कोई भी पर्दा नहीं उठा पाया हैं| यह रहस्य की जड़े बहुत गहरी हैं जिनका पता वैज्ञानिक आज भी लगाने में जुड़े हुए हैं| मनुष्य या मानव का इस धरती पर एक विशेष स्थान हैं| मनुष्य धरती का पहला ऐसा जीव हैं जो अपने ऊपर self depend हैं और धरती का सबसे विकसित प्राणी हैं| विज्ञान और वैज्ञानिक अभी तक नहीं पता लगा पाए की मनुष्य की उत्पत्ति के पीछे क्या कारण था| यह बात एक बहुत बड़ा रहस्य बन गया हैं जिसके बारे में कोई नहीं जानता| आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे की पृथ्वी का निर्माण कैसे हुआ, धरती का पहला मानव कौन था, पृथ्वी पर मनुष्य की उत्पत्ति कैसे हुई, हिन्दू धर्म के अनुसार हमारा का जन्म कैसे हुआ हम कहा से आये, सृष्टि की रचना और मनुष्य की उत्पत्ति कैसे हुई और मनुष्य की रचना कैसे हुई|

यह भी देंखे :शिवलिंग क्या है – शिवलिंग कैसे बना – शिवलिंग की कहानी उत्‍पत्ति हिंदी में

मनुष्य कैसे बना – मानव की उत्पत्ति और विकास

हर एक मनुष्य के पीछे उसके माता और पिता का हाथ होता हैं| आज तक कोई भी जीव वैज्ञानिक यह पता नहीं लगा पाया हैं की इस धरती का पहला मनुष्य कैसे पैदा हुआ| किसी भी चीज़ के होने के पीछे वैज्ञानिक और धार्मिक कारण होते हैं| इन दोनो मतों के अपने अलग अलग प्रमाण होते है| इन दोनों मतों की वजह से यह सिद्ध नहीं हो पाया हैं की मनुष्य धरती पर कैसे आया| यह प्रश्न भी उठता हैं की इस धरती पर पहला जीव कौन था और उसकी उत्पत्ति कैसे हुई| इन प्रश्नो का उत्तर शायद भविष्य में जाकर मिल जाए और शायद कभी मिले ही नहीं परन्तु आज के समय में जितने भी प्रमाण हैं उनसे यह सिद्ध हो जाता हैं की मनुष्य की उत्त्पत्ति के पीछे कुछ न कुछ कारण तो जरूर था जिसका हम पता लगाने में असमर्थ रहे हैं|

मनुष्य का जन्म कब हुआ

मनुष्य का जन्म कैसे हुआ

वैज्ञानिक रूप से देखे जाए तो इसके पीछे प्रकृति का बदलता स्वरुप हैं| वैज्ञानिको का ये प्रमाण उनकी लम्बे समय तक चली रिसर्च का परिणाम हैं| विज्ञान धार्मिक प्रमाणों को सत्य नहीं मानता| वे किसी भी बात के निश्चय तक तब तक नहीं पहुँचता जब तक की उसका कोई पक्का प्रमाण उनके सामने नहीं आ जाता| वैज्ञानिक रूप से माना जाए तो मानव करोड़ो साल पहले एक वानर था जो चारो पैर से चलता था| जैसे जैसे समय गुजरा उसकी जरुरत के साथ उसकी प्रवृत्ति में बदलाव आया| मानव ने अपने आप को प्रकृति के साथ अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए विकसित करा हैं|

यह भी देंखे :श्रीकृष्ण की मृत्यु कैसे हुई

हिंदू धर्म के अनुसार पृथ्वी की उत्पत्ति – मानव का इतिहास

Manushya_Ki Utpatti Kaise Hui In Hindi

धार्मिक मतो का अलग प्रमाण हैं| वे मानते हैं की सबसे पहले इस धरती की उत्पत्ति होने के बाद विष्णु जी प्रकट हुए और उनकी नाभि से भगवान ब्रह्मा का जन्म हुआ| बहुत से पुराने ग्रंथो में ये कहा गया हैं मानव की उत्पत्ति के पीछे ब्रह्मा जी का हाथ है| उन्होंने ही सृष्टि का और मनुष्य का निर्माण किया| उन्होंने स्त्री और पुरुषो को अपनी जटाओ को रगड़कर पैदा किया| वही यूरोप के वैज्ञानिक का कहना है की मानव शरीर का निर्माण 9000 साल पहले ही हुआ हैं उससे पहले सब वानर थे|

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*