भारत में कई धर्म के लोग रहते है। जिसमे से एक धर्म Islamic भी है। मुस्लिम धर्म में जुम्मा एक महत्त्वपूर्ण प्रथा होती है। जिसे salat al-jumu’ah भी बोलते है। यह मुस्लिम धर्म की Prayer होती है जो कि Friday को नमाज़ के रूप में की जाती है। इस दिन को लोग एक-दुसरे को Jumma Mubarak Dua देते है और जुमा मुबारक अलग-अलग अंदाज में बोलते है। जैसे कि किसी से मिलने के बाद Jumma Mubarak Dua Mein Yaad Rakhna, Jumma Mubarak Meri Jaan या Alvida Jumma Mubarak आदि। आज हम इस दिन को और भी Special बनाने के लिए कुछ Best शेरों शायरी (Latest Sher o Shayari) लाये है। आप इन New Islamic Shayari in Hindi 140 Words को in Roman English में देख सकते है। इसके साथ ही आप Jumma Mubarak Shayari HD में Download करके इसकी Gif को DP के तौर पर Whatsapp पर Use कर सकते है।

Jumma Mubarak Shayari SMS

काश उन को भी याद आऊं में जुम्मा की दुआओं में
जो अक्सर मुझसे कहते है दुआओं में याद रखना

या अल्लह आज जुमा की नमाज के बाद जितने भी
हाथ तेरी बारगाह में दुआ के लिये उठे है
सब की दुवा कुबूल फरमा

Jumma Mubarak Urdu

जब रन राजी होने लगता है तो
बंदे को अपने ऐबों का पता चलना शुरू हु जाता है
और ये इसकी रहमत की पहेली निशानी है

सारी तारीफे ऊस खुदा के लिए है जो बोलने
वाले का कलाम को सुन्नता है खामूश
रहने वाले के दिल की बात जनता है

दिलों के झूकने से होते है आबाद घर खुदा के
सिर्फ सजदों से नहीं सजती वीरान मस्जोदें कभी

आज तो मेरी हक में कर देना दुआ
सुना है यह बोहुत कबूल्यात का होता है

अस्सलाम वालेकुम
हर किसी के लिए दुआ किया करो
किया पता किसी की किस्मत
तुम्हारी दुआ का इंतजार कर रही हो
जुम्मा मुबारक

मेरी झोली में कुछ अल्फाज दुआ के डाल दो
क्या पता तुम्हारे लब हिले मेरी तकदीर संवर जाए

कर लेता हूँ बर्दाश्त हर दर्द इसी आस के साथ
की खुदा नूर भी बरसाता है आजमाइशों के बाद

Jumma Mubarak Shayari 2020

मेरी खाली झोली में दुआ के अल्फाज़ डाल दो,
क्या पता तुम्हारे होठ हिले और मेरी तकदीर संवर जाए.
जुम्मा मुबारक हो

ईमान में ही कोई कसर होता हैं,
वरना दुआओं का खूब असर होता हैं.

दुआ माँग लिया करो दवा से पहले,
कोई नही देता शिफ़ा खुदा से पहले.
शिफ़ा = सेहत, स्वास्थ, आरोग्य

जीवन में कुछ अच्छे कर्म भी कर लिया करो,
गरीबों के लिए भी इक दुआ पढ़ लिया करो.
जुम्मा मुबारक शायरी

रब से जब भी मांगो रब को ही मांगो,
जब रब तुम्हारा होगा तो सब तुम्हारा होगा.

कर लेता हूँ बर्दाश्त हर दर्द इसी आस के साथ,
कि ख़ुदा नूर भी बरसाता है आजमाइशों के बाद.

दुआओं में सबकी खुशिया माँग लिया करो,
जो दुआ नहीं पढ़ते है उनकी भी तकदीर संवार दिया करों.
Jumma Mubarak Ho

काश उनको भी याद आऊ मैं जुम्मा की दुआओं में,
जो अक्सर मुझसे कहते है दुआओं में याद रखना.
Jumma Mubarak Ho

पूरा जीवन बीत जाएँ ख़ुदा की बंदगी में,
पाँचों वक्त का नमाज अदा करू जिंदगी में.
जुम्मा मुबारक हो

Tere pyar nai zindagi se pehchaan karai hai,
mujhe woh tufano sai phir laut kai laayi hai,
bas itni hi du kartai hai khud sai hum,
bujhai na yai sham kabhi jo humnai jalayi hai.

Jumma Mubarak Shayari for Girlfriend

ऐ ख़ुदा मौका देना सफर-ए-मक्का का,
सुना है जन्नत जैसा नजारा है वहाँ का.
जुम्मा मुबारक

Mairai dil nai jab bhi du mangi hai,
tujhai mang hai tairi waf mangi hai,
jis mohabbat ko daikh kai duni ko rashk aayai,
tairai pyar karnai ki wo hi bas aik ad mangi hai.

अल्लाह सारी ख्वाहिशें मुक्कमल किया करें,
जो खुदा की सजदे में सिर झुकाया करें.

तू अगर मुझे नवाजता है तो ये तेरा करम है या रब,
वरना तेरी रहमतो के काबिल मेरी बंदगी नहीं.

Meri chahat nai sai beinteha khushi daidi,
badle mein us nai mujhai kuchh yu khamoshi daidi,
khud sai jo mangi du mainai marnai ki,
to usnai bhi kuchh yu tadapnai kai liyai zindagi daidi.

वो चमक चाँद में है न सितारों में हैं,
जो मदीने के दिलकश नजारों में हैं,
बेजुबान पत्थरों को भी बख्श दी जुबान
इतनी ताकत मेरे नबी के इशारों में हैं.

नहीं मायूस मैं अपने खुदा से,
बदल जाती है किस्मत दुआ से.

May Allah Bless You
and Your Family By Plentitude
of Blessings… Ameen!!!
Jumma Mubarak Ho

May Allah shower his mercy
& blessings upon you &
your loved ones.
Jumma Mubarak

Jumma Mubarak ki Shayari Hindi Mai

ए अल्लाह एक मौका हमको भी दे सफर-ए-मक्का का,
सुना हैं तेरे घर और जन्नत में कोई फर्क नहीं! .
जुम्मा मुबारक

सुकून और प्यार जिन्दगी को खूबसूरत बनाती हैं,
अल्लाह पाक आप की जिन्दगी में किसी एक की भी कमी न करें.
जुम्मा मुबारक हो

ख़ुदा की रहमत सभी पर बरसे,
दो वक्त की रोटी के लिए कोई न तरसे.
जुम्मा मुबारक हो

ख़ुदा के सजदें में जब मैं सिर को झुकाता हूँ,
मैं अपने सारे दुःख-दर्दों का हल पाता हूँ.
Jumma Mubarak Ho

अल्लाह सब के साथ हैं,
तस्वीर ए कैनात का अक्स हैं अल्लाह,
दिल को जो जगा दे वो एहसास हैं अल्लाह,
ए बाँदा ए मोमिन तेरा दिल क्यों उदास हैं,
दिल से ज़रा पुकार तेरे पास हैं अल्लाह.
जुम्मा मुबारक!

हमारी तो दुआ है ये कोई गिला नहीं,
वो फूल जो आज तक यहाँ खिला नहीं,
खुदा करे आपको वो सब कुछ मिले,
जो आज तक किसी को कभी मिला नहीं.

पलकों पे अपनी बिताया है तुम्हे,
बढ़ी दुआओ के बाद पाया है तुम्हे,
आसानी से नहीं मिले हो तुम हमें,
दिल्ली के चिड़ियाघर से चुराया है तुम्हें.

वो आज तलाक नवाज़ता ही जा रहा है अपने लुत्फ़
ओ करम से मुझै बस एक बार कहा था में ने,
इलाही मुझ पे रेहम कर मुस्तफा के वास्तै

ऐ अल्लाह हमें अता कर दे वो माफ़ी,
जिस के बाद कभी गुनाह न हो हम से.

Jumma Shayari Urdu

جو آواز آپ خاموشی سے سنیں گے وہ ہماری ہوگی ،
وہ تحفہ ساری زندگی ہمارے ساتھ رہے گا ،
دنیا کی ہر خوشی ایک دن تمہاری ہوگی ،
کیونکہ ان سب کے پیچھے ایک نعمت ہماری ہوگی۔

یا خدا انہیں ہمیشہ حیرت انگیز رکھے ،
میں ان سے دور ہوں ، ان کا خیال رکھنا ،
یہ دعا جب بھی میرے ہاتھ اٹھتی ، نکلتی ،
ہمیشہ اپنے آس پاس خوشی کا جال رکھیں۔

نماز میں تنہا چار چیزوں کا خیال رکھیں
میں راستہ میں ننگا کے راستے میں جوبان کے بارے میں سوچتا ہوں

اب جب رب راضی ہونا شروع کردیتا ہے ، تب بانڈے کو اپنی ماں کے بارے میں پتہ چل جاتا ہے
اور یہ اس کی رحمت کی پہلی علامت ہے

نور اندھے کو ،
وہ اس کا تذکرہ کرتے ہیں ،
اس شرح پر وہ جو بھی مانگتے ہیں
خدا اسے ضرور دیتا ہے۔

جو شخص اپنے غصے کو روکے گا ، اللہ پاک
عذاب اسے عجائبات سے باز رکھے گا

پوری دنیا وہ ہے جو مسکرانا سیکھ لے ،
یہ وہ نور ہے جس کو شمع جلانا سیکھتا ہے۔
ہر گلی میں ، ہر راہ میں ، مساجد اقبال ہیں ،
لیکن خدا وہ ہے جو رکوع کرنا سیکھتا ہے

جس دن آپ کا وفادار دوست
چور اپنا معاشرہ چھوڑ دے
آدھی قیمت

دوا سے پہلے دعا کریں
خدا کے سامنے کوئی شیفہ نہیں دیتا

Jumma Mubarak Image and Shayari

Jumma Mubarak Shayari SMS

jhumma mubarak shayari in hindi

Jumma Mubarak Shayari SMS

Jumma Mubarak Shayari Sad 2 Line

ए खुदा…बस यही गुजारिश है तुम से धन बरसे या
न बरसे पर रोटी या प्यार को कोई न तरसे

आज तो मेरी हक में कर देना दुआ सुना है
यह बोहुत क़बूल्यात का होता है

अस्सलाम वालेकुम हर किसी क लिए दुआ किया करो
किया पता किसी की किस्मत तुम्हारी दुआ का इंतज़ार कर रही हो

Youn Toh Rehmat Hai Teri, Tere Gazab Par Haavi Phir Bhi
Mehshar Mein Khuadya Mera Parda Rakhna

दिलों के झूकने से होते है आबाद घर खुदा के
सिर्फ सजदों से नहीं सजती वीरान मस्जोदें कभी

साडी तारीफ़ें उस खुदा के लिए है जो बोले वाले का कलाम को
सुन्नता है और खामोश रहने वाले के दिल की बात जानता है

जो किस्मत में न हो वोह रोने से नहीं
मिलता मगर दुआ से मिल जाता है

काश उन को भी याद आऊँ में जुम्मा की दुआओं में जो
अक्सर मुझसे कहते है दुआओं में याद रखना

YA ALLHA AAJ JUMA KI NAMAZ KE BAAD JITNE BHI HAATH TERI
BAARGAAH MEIN DUAA KE LIYE UHTE HAI SAB KI DUAA QUBUL FARMA

Beautiful Jumma Mubarak Shayari

Jumma Tul Mubarak Ka Pyara, Khoobsurat,
Rehmat-O-Barkat Wala Din Mubarak Ho.

जब रन राज़ी होने लगता है तो बंदे को अपने
ऐबों का पता चलना शुरू हु जाता है और ये
इसकी रहमत की पहेली निशानी है

Allah Es Din Ke Tamaam Rehmataen
Or Barkataen Aap Kay Naseeb Main Likh Dey.

Allah Sab K Saat Hai Tasvir e Kainat Ka Aks Ha
ALLAH Dil Ko Jo Jaga Day Wo Ehsaas Ha ALLAH Ay
Banda e Momin Tera Dil Kio Udas Ha Dil Say
Zara Pukaar Teray Paas Ha Allah

चार चीज़ों को खूब संभाल क रखो नमाज़ में दिल को
तन्हाई में सोच को महफ़िल में जुबां को रास्ते में नीगाह को

Phoolo ki wadiyon maiin basair ho aapk,
taron kai aangan maiin khubsurat savair ho aapk,
du hai mairi yai apnai dost kai liyai,
saarai jahan sai bhi pyaar nasaiaib ho aapk.

बाह रही अजीब हैं नादान-ए-दिल की खवाइश
या रब अमल कुछ नहीं और दिल तलबगार हैं जन्नत का!
जुम्मा मुबारक

May you all have a blessed
Friday filled with happiness,
prosperity and the pleasure of
Allah Ta’ala.
Jumma Mubarak

बह रही अजीब हैं नादान-ए-दिल की खवाइशया
रब अमल कुछ नहीं और दिल तलबगार हैं जन्नत का!

Jumma Mubarak Shayari for Facebook

नमाज़ की तो वो शान है जो रोक देती हैं तवाफ़-ए-काबा को ए इंसान,
तेरे कामों की क्या औक़ात है जिस के लिए तू नमाज़ को छोड़ देता हैं.

सुकून” और “प्यार” ये चीज़ें ज़िन्दगी मैं ख़ूबसूरत बनती हैं,
अल्लाह पाक आप की ज़िन्दगी मैं किसी एक की भी कमी न करे.
अमीन …
जुम्मा मुबारक!

Jb Kbhi Tumhein Apne Rizq Mein Kami Nazar Aane
Lage Kuch Maal Allah Ko De Kr Allah K Saath
Tijart Kr Liya Kro..!!! (Hazrat Ali R.A)
Jumma Mubarak!

Khamoshi Mein Jo Sunoge Wo Awaaj Hamari Hogi,
Zindagi Bhar Sath Rahe Wo Wafa Hamari Hogi,
Duniya Ki Har Kushi Ek Din Tumhari Hogi,
Kyunki In Sab Ke Piche Ek Dua Hamari Hogi.
Alhamdulillah Jumma Mubarak

Alvida Jumma Mubarak Dua Hai Us “Khaliq -e- Kainat” Se
Keh Hum Sbki Saari Mushkilat Door Kary Dua Hy Us
“Ghafoor Urr Raheem” Sy Keh Hum Ko Sihat Atta Kary
Dua Hy Us “Rab-Ul-Izzat” Sy Keh Hum Sbki Hifazt Kary
Dua Hy Uss “Ghaani” Sy Keh Hum Sbko Hr Daarja Nawz Dy Dua

Momin Ke Liye Tu Jaan-E-Hasti Hai NAMAZ Imaan Ki
Aghosh Main Baasti Hy NAMAZ Milti Nhi Mehshr Main
Kisi Bhi Qimat Pr Oh Zindgi Walon Parh Lu Abhi
Saasti Hy Namaz Jumma Mubarak

Toba Ka Khyal Khush Bkhti Ki Alamt Hy Q Keh
Jo Apne Gunah Ko Gunah Na Samjhe Woh Bad’Qismat Hy”
Jumma Mubarak !

Wazu Kar Ke Soye Bistar Jhaar Kar Soye Dahini
Krwat Pr Soyye Sony Ki Dua Pr Kr Soyye Allah Humma
Bismika Amooto Wa Ahya Hr Raat Hum 1 Dusry Ko Gud 9it
Ky Msg Krty Hain Aj Yeh Forword Karein Agr Kisi Ek
Ny Bhi Amaal Kr Liya Tu Ap Bh

Hm Ag Sy Darty Hain Keh Woh Jaala Dy Gyi
Paani Sy Darte Hain Keh Woh Dubo Dy Ga
Tufan Sy Darty Hain Keh Woh Tabha Kr Dy Ga
Lakin Hum ALLAH Se Kyun Nahi Darte,
Jo In Sb Pr Qadir Hy Zara Sochiye
Jumma Mubarak …!!!

Jumma Mubarak Shayari in Hindi and Urdu – जुम्मा मुबारक शायरी – Jumma Mubarak Ho
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top