पैसे तो भारत में कई ऐसे तरीके हैं जिसका सेवन करके लोग नशे जैसी बुरी आदतों का सेवन करते हैं। नशा करना सेहत के लिए हानिकारक है एवं इस से जान का खतरा बना रहता है । वैसे तो लोग कई प्रकार का नशा करते हैं परंतु बाजार में सबसे सस्ता और आसानी से मिलने वाला नशा भांग है। बाजार में कई सारे प्रकार के पदार्थ मिलते हैं जिसकी सहायता से लोग नशे का सेवन करते हैं परंतु भांग एक ऐसा पदार्थ है जो कि बेहद आसानी से प्राप्त हो सकता है। भांग का सेवन करने से लोग कई प्रकार की बीमारियों का सामना करते हैं जोकि सेहत के लिए बहुत ही हानिकारक है एवं इससे लोग अपना मानसिक संतुलन भी खो सकते हैं।

इसलिए निवेदन करते हैं अगर आप भी भांग का नशा करते हैं तो करना छोड़ दें क्योंकि है सेहत के लिए हानिकारक है एवं इससे खुद को हानि तो पहुंचा ही रहे हैं बल्कि अपने परिवार को भी आर्थिक एवं मानसिक रूप से हनी पहुंचा रहे हैं। भांग एक ऐसा नशीला पदार्थ है जो कि पौधे के माध्यम से मिला जाता है एवं इसकी पत्तियों को पीसकर भांग को तैयार करा जाता है।

Bhang ka nasha turant kaise utare

भारत में सबसे ज्यादा भांग का सेवन उत्तर भारत के लोगों द्वारा किया जाता है जो काफी मात्रा में है। भांग को कई बार स्वास्थ्य एवं दवाइयों के रूप में भी इस्तेमाल करा जाता है। भांग को आज के समय आयुर्वेदिक दवा में भी इस्तेमाल करा जाता है जिससे लोगों का इलाज होता है। परंतु भारतवर्ष भांग की अधिक पैदावार होने की वजह से इसका सेवन अधिक मात्रा में लोग करते हैं एवं यह पौधा कहीं भी उग सकता है। भांग को भारत में कई त्योहारों पर इस्तेमाल करा जाता है एवं ऐसे त्योहारों में भांग को पीसकर दूधिया ठंडाई एवं जांच के माध्यम से भारी मात्रा में पिया जाता है। इन सब बातों के बाद हम यह निर्णय पर पहुंच सकते हैं कि भांग का नशा सेहत के लिए बहुत हानिकारक है एवं इससे आपके साथ के प्रति खतरा बन सकता है।

भारत में सभी उम्र के लोग भांग का सेवन करते हैं जिसमें कम उम्र से लेकर बड़ी उम्र तक के सभी पुरुष एवं महिलाएं शामिल है। देश में भांग का इस्तेमाल अनेक व्यंजनों एवं ठंडाई में मिलाकर सेवन किया जाता है। किसी भी चीज का सेवन कम मात्रा में किया जाए तो कोई दिक्कत या हानि नहीं होती है परंतु समस्या तब बढ़ जाती है जब इसका सेवन लोग कई मात्रा में करने लग जाते हैं। भांग का अधिक मात्रा में सेवन करने से नशा सर पर चढ़ जाता है और इसके परिणाम स्वरूप लोग अपने होशो हवास खो बैठते हैं एवं उनको कुछ समझ नहीं आता है।

भांग का नशा कैसे उतरता है

भांग का अधिक मात्रा में सेवन करने से लोगों को मानसिक रूप से हानि पहुंचती है एवं इसके परिणाम स्वरुप उनकी स्थिति प्रकार से बिगड़ सकती है। कई बार यह देखा गया है कि लोग भांग का सेवन करते हैं एवं उनकी स्थिति इतनी गंभीर हो जाती है कि उनको अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ता है। बाकी क्या बल्कि किसी भी प्रकार का नशा करना मनुष्य के सेहत के लिए बहुत हानिकारक है। भांग का सेवन करने से लोगों के नर्वस सिस्टम पर काफी मात्रा में हानि पहुंचती है। डॉक्टरों के मुताबिक भांग का नशा सीधा दिमाग पर असर करता है एवं इससे दिमाग मानसिक रूप से कमजोर पड़ जाता है। इसके परिणाम स्वरूप कई बार लोगों की दिमाग की नसों पर भारी असर पड़ता है। इसका सेवन करने वाले लोग अपनी किसी भी प्रकार की गतिविधियों पर नियंत्रण नहीं रख पाते हैं एवं हद से ज्यादा भांग का सेवन लोगों को बिना किसी कारणवश रोने एवं हंसने पर मजबूर कर देता है। कई बार भांग का सेवन करने से लो खुद को ही भूल जाते हैं एवं अजीब तरह की बातें करने लग जाते हैं।

भांग का नशा कैसे होता है

जानकारी के लिए बता दें कि भांग का नशा एवं अन्य प्रकार के उपचारों के लिए करा जाता है परंतु डॉक्टर इसका सीधा सेवन करने से लोगों को मना करते हैं क्योंकि भांग का सेवन सेहत के लिए बहुत हानिकारक है एवं इससे लोगों के दिमाग पर काफी असर पड़ता है। इसके परिणाम स्वरूप लोगों की ब्रेन टिशु डैमेज होने लग जाती हैं। वैसे तो भांग दूसरे प्रकार के नशीले पदार्थों की तरह होता है परंतु भांग का सेवन दूध ठंडाई आदि जैसे लिक्विड पदार्थों में किया जाता है। भांग खोलो अधिक मात्रा में घुट कर पीते हैं एवं इसकी वजह से भांग का नशा ज्यादा चढ़ता है। भांग का नशा यादव चढ़ने से लोगों का मानसिक संतुलन बिगड़ जाता है एवं पे है कुछ भी याद ना रख पाने की स्थिति में पड़ जाते हैं। इसके सेवन से इंसान हरकतें करने लगता है जैसे कि वह बिना किसी कारणवश हंसना एवं रोना शुरू कर देता है या फिर लंबे समय तक निद्रा में रहता है। कई बार लोग भांग का सेवन करने के बाद एक ही काम को बार-बार करने लगते हैं।

कई बार ऐसी स्थिति में उनको हस्पताल के चक्कर काटने पड़ते हैं। सरल भाषा में समझाएं तो भांग एक ऐसा पदार्थ है जिसका सेवन ना ही करें तो आपके स्वास्थ्य के लिए बेहतर है क्योंकि इसका सेवन करने से सेहत को भारी मात्रा में हानि पहुंचती है। भांग का सेवन नहीं करें एवं ना किसी और को करने दे|

भांग का नशा कितने दिन तक रहता है

वैसे तो भांग का नशा तुरंत नहीं चढ़ता परंतु भांग का नशा चढ़ने में अधिक समय लगता है। पर भांग का नशा असर करता है तो वह सीधा इंसान के दिमाग पर चढ़ जाता है। इसके परिणाम स्वरूप इंसान होता है। भांग का नशा आसान कार्य नहीं है परंतु लोग कई प्रकार के नुस्खे का इस्तेमाल भांग का नशा उतारने के लिए करते हैं। ऐसी चीजों का सेवन करने से लोगों को उल्टी आती है एवं भांग का नशा उतर जाता है। परंतु कई बार ऐसा होता है कि लोगों की हालत बहुत गंभीर हो जाती है एवं उनको हस्पताल में जाकर डॉक्टर से अपना इलाज करवाना पड़ता है।

भांग उतारने के उपाय – Bhang ka nasha utarne ke upay in hindi

नीचे हमारे द्वारा आपको कई प्रकार के घरेलू नुस्खों की जानकारी दी है जिसकी सहायता से आप आसानी से भांग का नशा घर में रहकर उतार सकते हैं।

अदरक

वैसे तो भांग का नशा उतारने के लिए कई प्रकार के घरेलू नुस्खे हैं जिसका इस्तेमाल कर सकते हैं परंतु एक ऐसा नुस्खा है चुटकी भर सेवन करने से नहीं बल्कि किसी भी प्रकार का नशा आसानी से उतारा जा सकता है।

देसी घी

देसी घी एक ऐसा पदार्थ है जो कि बहुत ही आसानी से घर में पाया जा सकता है एवं इसका 500 मिलीलीटर मात्रा में सेवन करने से भांग का नशा आसानी से उतारा जा सकता है।

कोकोनट वाटर

यदि आप भांग का नशा उतारने चाहते हैं तो नारियल पानी की सहायता से आसानी से भांग का नशा उतार सकते हैं।

नींबू

एक ऐसा फल है जोकि घर में आसानी से पाया जा सकता है एवं इसमें मौजूदा एंटीबायोटिक की मदद से आसानी से भांग का नशा उतार सकते हैं।

खट्टे पदार्थ

यदि आप किसी भी प्रकार के खट्टे पदार्थ का उपयोग करते हैं जैसे नींबू दही इमली आदि की सहायता से भांग का नशा आसानी से उतार सकते हैं।

भांग का नशा कैसे उतरेगा
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

you can contact us on my email id: harshittandon15@gmail.com

Copyright © 2016 कैसेकरे.भारत. Bharat Swabhiman ka Sankalp!

To Top