स्वच्छता अभियान पर कविता – Swachh Bharat Par Kavita in Hindi

स्वच्छता पर कविता

स्वच्छ भारत अभियान भारत के इस समय के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा २ अक्टूबर २०१४ पर गाँधी जयंती पर शुरुआत की थी| इस अभियान पर बहुत से नेता और अभिनेताओं ने बढ़ चढ़कर सहयोग किया हैं| आज भारत देश का हर व्यक्ति इस अभियान का हिस्सा हैं| २०१९ में गांधी जी की 150वी. जयंती पर मोदी जी पुरे भारत को स्वच्छ करना चाहते थे| इस अभियान के बारे में विदेश के अखबारों में भी ज़िक्र किया हैं और इसकी प्रशंसा भी हुई| आज के इस पोस्ट में हम सफाई पर कविता, स्वच्छता कविता मराठी, स्वस्थ भारत कविता, स्वच्छता वर कविता, स्वच्छ वातावरण पर कविता, स्वच्छता वर कविता मराठी, स्वच्छ भारत अभियान मराठी कविता, स्वच्छतेवर मराठी कविता लाए हैं जिससे आप अपने निबंध या भाषण में इस्तेमाल कर सकते हैं|

यह भी देंखे :भ्रष्टाचार पर कविता – Poem on Corruption in Hindi – Lines Short Poems

स्वच्छता पर कविता

शहर-गली में चर्चा है,
स्वच्‍छ भारत अभियान की!
आओ बच्चों तुम्हें बताएं,
महत्ता कचरा दान की।
बिना प्रबंधन बीमारी,
फैले जो दुश्मन जान की।
उचित प्रबंधन खाद बनाता,
करता मदद किसान की।
शहर-गली में चर्चा है,
स्वच्‍छ भारत अभियान की!
कपड़े की झोली विकल्प है
पॉलीथिन की थैली की।
लहर चल रही सभी ओर अब,
मोदी के अभियान की!
शहर-गली में चर्चा है,
स्वच्‍छ भारत अभियान की!
शौचालय के लाभ समझना,
जरूरत हर इंसान की।
तुम्हारे कंधों पर निर्भर है,
सफलता इस अभियान की!
शहर-गली में चर्चा है,
स्वच्‍छ भारत अभियान की!

स्वच्छता और स्वास्थ्य पर कविता

उठा लो झाड़ू, उठा लो पोंचा
पहुँचो जहाँ कोई भी न पहुंचा
कोई जगह न रहने पाए
हर जगह को हम चमकाएं,
सपना यही है बस अपना
स्वच्छता को अपनाना है
भारत को स्वच्छ बनाना है
भारत को स्वच्छ बनाना है।
उठा लो झाड़ू, उठा लो पोंचा
पहुँचो जहाँ कोई भी न पहुंचा
कोई जगह न रहने पाए
हर जगह को हम चमकाएं,
सपना यही है बस अपना
स्वच्छता को अपनाना है
भारत को स्वच्छ बनाना है
भारत को स्वच्छ बनाना है।

स्वास्थ्य और स्वच्छता Par Kavita

स्वच्छता और स्वास्थ्य पर कविता

सफाई का जो रखें ध्यान
बिमारियों से बचती जान
ख्वाब से न कोई आगे बढ़ता
बस कर्मों से बनता महान,
इधर उधर न फैंक के कूड़ा
कूड़ेदान में हमें पहुँचाना है
भारत को स्वच्छ बनाना है
भारत को स्वच्छ बनाना है।
न फैंके नदियों में कूड़ा
न प्लास्टिक का उपयोग करें
कुदरत को नुक्सान न हो
ऐसी चीजों का उपभोग करें,
वातावरण को भी तो हमको
प्रदुषण मुक्त बनाना है
भारत को स्वच्छ बनाना है
भारत को स्वच्छ बनाना है

Swachata Par Hasya Kavita

जिम्मेदार है हमको बनना
और औरों को बनाना है
देश के गर्व को अब हमको
हर कोशिश से आगे बढ़ाना है,
सबसे सुन्दर देश है मेरा
पूरे विश्व को ये दिखाना है
भारत को स्वच्छ बनाना है
भारत को स्वच्छ बनाना है।
स्वच्छ भारत अभियान है
बढ़ानी जग में शान है
भारत माँ को प्यार करो
इसका तुम सम्मान करो
नहीं है जग में हिंदुस्तान कोई
यहां भी ये अनमोल है
स्वच्छ भारत अभियान है
बढ़ानी जग में शान है

Swachata Par Kavita In Marathi

स्वच्छता अभियान पर कविता

गंगा यमुना नद्या
भारतात बसतो
त्यांना पवित्र करण्यासाठी निराकरण करा
आता पेपरमध्ये आहे
स्वच्छ भारत अभियान
जागतिक भव्य करा
एक तर दहशतवाद आहे
एक बाजू भ्रष्टाचार आहे
एकत्र त्यांना त्यांना बाहेर काढणे आहेत
आजची ही चांगली कल्पना आहे
स्वच्छ भारत अभियान
जागतिक भव्य करा
स्वप्नात भारत का नाही?
कोणीही अडचणीत आला नाही
माझ्या देशाची आई
आपण कुठेही आहात
प्रत्येकाला त्याचा अभिमान आहे
स्वच्छ भारत अभियान
जागतिक भव्य करा
पूर्ण देशात रोजगार
गोंधळ नाही
या साधेपणाचा समान साधेपणा
देशाची ओळख व्हा
आम्ही सर्व हे आहे
स्वच्छ भारत अभियान
जागतिक भव्य करा

स्वच्छता का महत्व पर कविता

Swachh Bharat Par Kavita in Hindi

सिर्फ अपने घरों
को साफ रखकर
पूरा नहीं हो सकता
यह नेक काम
जब हर गली हर
मोहल्ला साफ होगा
तब ही पूरा हो सकता
स्वच्छता अभियान
अगर एक -एक व्यक्ति
सफाई अपनाए
तो एक दिन देश
सुंदर और स्वच्छ बन जाए

Swach Par Kavita

अगर आप small poem on swachh bharat abhiyan in hindi, hindi kavita on swachh bharat abhiyan, swachh bharat par kavita hindi mein, poem on swachh bharat swasth bharat in hindi, swachata abhiyan in hindi pdf, poem on cleanliness in hindi, swachata kavita marathi, poem on swachh bharat swachh vidyalaya के बारे में यहाँ से जान सकते है :

अगर रहेगी स्वच्छता
तो सबका ही होगा भला
ना बीमारियाँ फैलेंगी
प्रदूषण भी फिर घटेगा
जन-जन आगे बढ़कर आये
देश की प्रगति में हांथ बढ़ाए
सभी जगह से कूड़े-कचरे को सफाकर
भारत को नयी पहचान दिलवाए
विश्व गुरु बनने के लिए
स्वछ्ता एक ज़रूरी विषय
तभी तो आगे बढ़ेंगे हम ,जब
शुद्ध हवा और वातावरण रहने को मिले

यह भी देंखे :चाचा नेहरू पर कविता इन हिंदी – Poem On Jawaharlal Nehru In Hindi

Swachata Abhiyan Par Kavita In Hindi

गंगा यमुना नदियां कई
भारत में विराजमान है
इनको पवित्र करने का संकल्प
अब कागजों में विद्यमान है
स्वच्छ भारत अभियान है
बढ़ानी जग में शान है
एक तरफ है आतंकवाद
एक तरफ है भ्रष्टाचार
मिलकर इनको उखाड़ना है
यही आज का सुविचार है
स्वच्छ भारत अभियान है
बढ़ानी जग में शान है
क्यों न सपनों का भारत बन जाए
कोई कभी ना परेशानी में आए
माता बहने मेरे देश की
जहां भी चाहे राह बनाएं
इस पर ही सबको अभिमान है
स्वच्छ भारत अभियान है
बढ़ानी जग में शान है
रोजगार से संपन्न हो देश
गंदगी का ना हो नामोनिशान
इसी सादगी इसी संपनता
पर हो देश की पहचान
हम सब ने भी यह माना है
स्वच्छ भारत अभियान है
बढ़ानी जग में शान है

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*