वज्रासन कैसे करे – वज्रासन योग के फायदे व लाभ, आसन विधि

वज्रासन कैसे करे

आज के समय में स्वस्थ्य और तंदरुस्त रहने का सबसे कारगर इलाज योग हैं | योग से हमारे दिमाग और शरीर को शान्ति मिलती हैं| इसकी वजह से हमारे शरीर की एक्सरसाइज भी हो जाती हैं| आज के समय में भारत में योग का बहुत महत्व हैं| कहा जाता हैं की योग भारत की प्राचीन सभ्यताओ में से एक हैं| इतिहास में कई ऋषि मुनियो ने योग का महत्व जाना और उसे अपने जीवन में अपनाया हैं| आज के समय में पुरे विश्व में योग किया जाता हैं| समूचे विश्व ने योग को जीवन का महत्वपूर्ण जीवन शैली माना हैं और इसे अपनाया हैं| वैसे तो बहुत से ऐसे योग हैं जिसे आप अपने रोजाना की जीवन शैली में अपनाकर तंदरूस्त रह सकते हैं पर आज के इस पोस्ट में हम इन्ही में से एक बहुत ही महत्वपूर्ण आसन वज्रासन की बात करेंगे| आज के इस आर्टिकल में हम आपको सुप्त वज्रासन in hindi, वज्रासन क्रिया, सुप्त वज्रासन, वज्रासन से लाभ, वज्रासन योगासन आदि की जानकारी देंगे|

यह भी देंखे :योग ज्ञान मुद्रा कैसे करे और उसके लाभ

वज्रासन योग इन हिंदी – वज्रासन क्या है

आज के समय में भारत में योग का बहुत महत्व हैं| पूरे विश्व में 21 जून को विश्व योग दिवस बनाया जाता हैं जहाँ सभी वर्ग तथा जाति के लोग एक साथ मिलकर योगासन करते हैं| भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी भी योग को बढ़ावा देते हैं और पूरे विश्व में योग का प्रचार और उसके फायदे बताते हैं ताकि सबको योग का महत्व पता चले | वज्रासन एक बहुत ही आसान और सरल आसन हैं| आज के भागदौड़ भरी जिंदगी में बहुत से लोगो को पाचन से जुडी समस्या जैसे अपच, गैस, एसिडिटी आदि समस्या होती हैं जो उनके सेहत के लिए हानिकारक होती हैं| आज के समय में शायद कुछ ही ऐसे लोग होंगे जिन्हे ये परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता| वज्रासन करने से आपकी पेट की सारी समस्या दूर हो जाती हैं और इन परेशानियों से आपको निजात मिल जाता हैं|

वज्रासन फायदे – वज्रासन बेनिफिट्स इन हिंदी

वज्रासन के फायदे-वज्रासन के नुकसान : वज्रासन योगासन करने के बहुत से लाभ और ज्यादा करने से कुछ नुकसान भी हैं| यह आसान करने से पहले यह भी जानना जरुरी हैं की वज्रासन कितनी देर करना चाहिए| शवासन और वज्रासन दोनों ही पेट की तकलीफ के लिए कारगर हैं| बहुत से लोग वज्रासन के लाभ के बारे में नहीं जानते| वज्रासन योगासन से हमारे शरीर और मन को बहुत लाभ होते हैं जिनमे से कुछ हम आपको बताते हैं|

  • वज्रासन करने से आपका शरीर तंदरुस्त बना रहता हैं|
  • यह आसन गर्भवती महिलाओ के लिए बहुत फायदेमंद हैं|
  • अगर आपको वजन कम करना हैं तों सुबह उठकर वज्रासन २० मिनट करना लाभदायक हैं|
  • वज्रासन योगासन से अपच, गैस और बदहज़मी की समस्या दूर हो जाती हैं|
  • वज्रासन चरणों की कसरत के लिए भी लाभदायक होता हैं|

वज्रासन लाभ और सावधानियों – वज्रासन चे फायदे

तो आइये अब हम आपको वज्रासन लाभ,vajrasana ke फायदे, वज्रासन फायदे मराठी, वज्रासन विकिपीडिया, वज्रासन आसन, वज्रासन मराठी माहिती के बारे में बताते हैं|

  • रोज़ सुबह उठकर वज्रासन करने से आपके शरीर का सारा फैट कम हो जाता हैं|
  • इस आसान को करने से घुटनो का दर्द दूर हो जाता हैं|
  • यदि आपको रक्तचाप, टूबरक्लोसिस, कैंसर आदि हानिकारक बीमारिया हैं तो यह आसन करने से आपको लाभ होगा|
  • इस आसान को करने से फेफड़े मजबूत होते हैं|
  • यह सायटिका की बीमारी में लाभदायक हैं|
  • इसको करने से मन की चंचलता दूर होती हैं|
  • इससे रीढ़ की हड्डी मजबूत होती हैं|

वज्रासन फोटो

इस पोस्ट में आप हमारे द्वारा वज्रासन चित्र, वज्रासन मुद्रा, वज्रासन माहिती, vajrasana lightning bolt pose आदि की जानकारी ले सकते हैं|

वज्रासन फोटो

यह भी देंखे :Yoga Quotes in Hindi

वज्रासन करने का तरीका व विधि – वज्रासन कैसे करते है

तो आइये अब हम आपको वज्रासन विधि, वज्रासन कसे करावे, वज्रासन कैसे होता है, वज्रासन करने के उपाय, वज्रासन की विधि, वज्रासन इन हिंदी, वज्रासन की परिभाषा, वज्रासन मराठी, वज्रासन कैसे किया जाता है इसकी जानकारी देते हैं|

  • सबसे पहले आप किसी साफ़ जगह पर कम्बल या चटाई बिछाकर बैठ जाए|
  • फिर आप अपने बाए पैर को पीछे की तरफ मोड़कर बैठे जिससे की आपका पंजा ऊपर और पीछे की तरफ हो जाए|
  • अब दाए पैर को भी इसी आकार में करके ऐसे बैठे की आपकी दोनों एड़िया आपके हिप्स से जुडी हो|
  • इसके बाद दोनों पैरो के अंगूठे को एक दूसरो से जोड़कर रखे|
  • इसके बाद दोनों एड़ियों में अंतर बनाकर रखे|
  • अपने दोनों हाथ को घुटनो पर रखे और पीठ एक दम सीधी करे|
  • शरीर को ढीला छोड़कर आँख बंद करे|
  • इसके बाद अपने शरीर की सास अंदर और बाहर छोड़े|

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*