मेरा देश भारत पर निबंध – Mera Bharat Mahan In Hindi Essay

Mera Bharat Mahan In Hindi Essay

Mera Desh Bharat Par Nibandh – मेरा भारत इन हिंदी एस्सेस : हम जिस देश में रहते है हमारा वह देश हमारे लिए महान होता है इसलिए हम सभी लोग भारत देश के निवासी है और अपने देश की शान के लिए हम कई गौरवमयी काम करने को तैयार हो जाते है | बचपन से ही बच्चो को भारत देश के ऊपर अच्छी बाते सिखाई जाती है तथा हमारे भारत देश को आज़ादी दिलाने के लिए उनके द्वारा किये गए कार्यो व बलिदानो के बारे में बताते है ताकि वह बच्चे भी देश की तरक्की के लिए कुछ महत्वपूर्ण कार्य कर सके | इसीलिए चाहे वह कोई भी क्लास हो जैसे कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 या 12 सभी क्लास के हमारे भारत महान देश के ऊपर निबंध अथवा एस्से बताए जाते है इसीलिए कई लोग इंटरनेट पर मेरा भारत महान Wikipedia मेरे सपनो का भारत या और भी कुछ सर्च करते है जिसके बारे में जानकारी आप हमारे माध्यम से पा सकते है |

यह भी देखें : गणतंत्र दिवस पर निबंध

मेरा भारत महान हिंदी निबंध

अगर आप भारतीय संस्कृति के ऊपर mera desh bharat par nibandh in hindi – मेरा देश भारत पर निबंध इन हिंदी लैंग्वेज या PDF में जानना चाहते है या india Country पर किसी भी तरह की कोई भी जानकारी निबंध द्वारा पाना चाहे तो यहाँ से पा से सकते है :

प्रस्तावना ——, हमारा भारत वह देश है जहां राम, कृष्ण आदि देवताओं ने भी आकर जन्म लिया तथा इस भूमि को गौरवान्वित किया. अनेक महान विभूतियों ने इस धरा पर जन्म लेकर इसके गौरव का प्रसार किया. अनेक धर्म, संस्कृति, भाषा आदि होने पर भी हमारा भारत अनेकता में एकता का प्रतीक है जो इसकी महानता को बयां करता है.
महान विभूतियों का जन्म-—— यहां की धरती पर विवेकानंद जैसे महान विभूति का जन्म हुआ. जिन्होंने अल्प आयु में ही पूरे विश्व को भारत की संस्कृति व सभ्यता का परिचय कराया. तथा इसके अलावा महाराणा प्रताप, पृथ्वीराज चौहान, लक्ष्मीबाई, बुद्ध महावीर, कबीर, गांधी, भगत सिंह, जवाहरलाल नेहरु आदि महान विभूतियों का जन्म हुआ जो भारत के गौरव कहलाये .
अनेकता में एकता—— भारत में हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई, बौद्ध आदि अनेक धर्म के लोग तथा अनेक जातियों के लोग एक साथ रहते हैं. तथा उनके द्वारा राष्ट्रभाषा हिंदी के अतिरिक्त मराठी, पंजाबी, कन्नड़, गुजराती, तेलुगु आदि अनेक भाषा बोली जाती है. तथा सभी धर्मों के लोग अपने-अपने पर्व दीपावली, ईद, क्रिसमस आदि सभी एक साथ मनाते हुए अनेकता में एकता का परिचय देते हैं. यह पन्थ निरपेक्ष देश कहलाता है .
भौगोलिक व प्राकृतिक सुंदरता—— यहां की प्राकृतिक सुंदरता बड़ी ही मनोहर है. जहां एक और स्वर्ग के रूप में कश्मीर है तो दूसरी ओर सागर की सुंदरता लिए दक्षिण भारत, संसार की सबसे ऊंची चोटी भी भारत में ही है. तथा यहां की रमणीय स्थान पहाड़ घाटी समुद्र तट सुंदर नदियां दिवालय आदि अति रोमांचकारी है. जिसे देखने के लिए विदेशों से लाखों सैलानी प्रतिवर्ष यहां आते हैं. यहां की सुंदरता विश्व प्रसिद्ध है .
लोकतांत्रिक देश—— भारत एक लोकतांत्रिक देश है जहां सभी स्वतंत्र हैं तथा जनता का जनता द्वारा जनता के लिए शासन किया जाता है. यहां का वंदे मातरम राष्ट्रीय गीत है तथा जन गण मन राष्ट्रगान के रुप में गाया जाता है. राष्ट्रीय पक्षी मोर तथा पशु बाघ है तथा राष्ट्रपति का चिन्ह तुला है जो न्याय का प्रतीक है. .15 अगस्त 1947 को देश स्वतंत्रत हुआ तथा 26 जनवरी 1950 को देश गणतंत्र हुआ. जिसे गणतंत्रता दिवस के रूप में प्रति वर्ष राष्ट्रीय पर्व के रूप में मनाया जाता है।
संस्कृति, सभ्यता तथा दिलों की उदारता——– अनेक विदेशी विद्वान यहां की संस्कृति और सभ्यता को देखने के लिए आए तथा इससे प्रभावित होकर अनेक पुस्तकों की भी रचना की. जिसमें भारत की महान संस्कृति और सभ्यता का परिचय मिलता है. भारत के लोग दिल के बड़े दयालु और उदार होते हैं. यहां के लोग विदेशियों को अतिथि देवो भव मान कर उनका उचित सत्कार करते हैं. भारत की संस्कृति और सभ्यता पूरे विश्व में सबसे ऊंची है तथा विश्व की सभी संस्कृतियों की जननी है।
उपसंहार—— हमारे भारत देश में बेसहारे को भी सहारा मिलता है तथा प्रत्येक व्यक्ति के हृदय में एक दूसरे के प्रति प्रेम तथा करुणा विद्यमान है. यहां का कण-कण पावन है हमें गर्व है कि हमने भारत में जन्म लिया है. सारे जहां से अच्छा हिंदुस्तान हमारा हम बुलबुले हैं इसकी यह गुलसिंता हमारा.

यह भी देखें : गणतंत्र दिवस पर छोटी कविता

Mera Bharat In Hindi Essays – हमारे देश भारत कक्षा 6

पूरी दुनिया में एशिया में एक कंट्री इंडिया जो की बहुत प्रसिद्ध है हमारे भारत देश एक कृषि प्रधान देश है जिसके बारे में जानने के लिए आप हमारे द्वारा बताये गए निबंध को भी पढ़ सकते है :

प्राचीन काल में भारत के पास धन की कोई कमी नहीं थी! लेकिन भारत पर राजावो और शासको ने भारत के सारे धन को लूट कर ले कर चले गए! भारत के खानों से सोना चांदी, अभ्रक और तांबा जैसी बहुत से मूल्यवान चीज़े निकली जाती है! भारत में अंग्रेजो ने ब्यापार का बहाना करके प्रवेश किया था! और धीरे धीरे भारत को अपना गुलाम बना लिया! आज हम सब को मिलकर एक नए भारत की स्थापना करनी चाहिये! हमारे सपनो के भारत में किसी को कोई भी चीज़ की कमी नहीं होती चाहिये! हमारे सपनो के भारत के किसी के साथ ऊच और नीच का कोई भाव नहीं रखना चाहिये! आज भारत दुनिया के सामने बहुत ही तेजी से विकसित हो रहा है! आज भारत हर एक चीज़ में किसी भी देश से कम नहीं है! हम सबको मिलकर भारत को आगे बढ़ाने में अपना योगदान देना चाहिये! भारत की पहचान भारत की संस्कृती है हमको भारत की संस्कृती को आगे बढाना होगा और पूरी दुनिया के सामने भारत की संस्कृती को रखना होगा! आज हमारा देश पूरी तरह से आजाद है और हम हर साल 15 अगस्त को आजादी के दिन के रूप में मनाते है! हम सबको भारत के हर एक ब्यक्ति के साथ मिलकर रहना चाहिये! किसी भी ब्यक्ति के साथ किसी भी तरह का कोई भेद भाव नहीं रखना चाहिये! जब हम लोग आपस में मिलकर रहेगे तभी दुनिया हमारे भारत को मिसाल देगी! भारत कोई छोटा देश नहीं है और भारत किसी भी तरह के खतरों का सामना करने के लिए हमेसा तैयार रहता है! इसलिए हमको कभी भी किसी भी चीज़ से डरना नहीं चाहिये! हमको अपने देश के जवानों पर गर्व होना चाहिये! की हमारे जवान बार्डर पर रह कर दिन और रात हमारी और हमारे देश की सेवा करते है! तो चलो दोस्तों आज हम सब मिलकर ये संकल्प लेते है! की हम अपने देश की सान ऐसे ही बढ़ाते रहेगे! और अपने भारत देश के लिए हमेसा अपना योगदान देने रहेंगे!

मेरा देश भारत पर निबंध

मेरा भारत महान पर निबंध इन हिंदी – मेरा देश भारत पर निबंध इन हिंदी

प्राचीनकाल में अनेक जाति और देशो ने भारत पर हमला किया और भारत में अपना खुद का शासन किया! अगर कहा जाये की भारत दुनिया का सबसे सुंदर देश है तो इसमें कोई गलत बात नहीं है! क्योकि भारत वास्तव में दुनिया के सुंदर देशो में से एक है! दुनिया का सबसे प्राचीन वेद का उदय भारत में ही हुआ था! श्रीकृष और श्रीराम ने भारत की ही भूम में ही अवतार लिया था! श्रीकृष और श्रीराम जैसे और भी बहुत से महान लोगो ने भारत में जन्म लिया था! श्रीकृष और श्रीराम ने भारत में अवतार लेकर इसकी भूम को पवित्र कर दिया है! भारत की गंगा , यमुन , कावेरी , सतलुज जैसी नदियों की वजह से भारत की भूम को पानी मिलता है! भारत में नदियों की भी पूजा की जाती है! और कहा जाता है की अगर कोई गंगा में जारकर स्नान कर ले तो उसके पुरे पाप धुल जायेगें! इसलिए भारत में हर साल कुम्भ का मेला लगता है इस दिन दुनिया के लोग कुम्भ के मेले में आकर गंगा में स्नान करके अपने द्वारा किये गए पापो को धुलते है! अपने देश के लिए जान देने वाले वीर पुरुष को सम्मान देने की प्रक्रिया भारत देश से ही शुरु हुआ था! भारत में बहुत से महापुरुष और महापंडितो का जन्म हुआ! भारत में ही मार्सल आर्ट की शुरुवात हुई! भारत में मार्सल आर्ट की शुरुवात वोदिधर्मन ने किया था! वोदिधर्मन ने बाद में जाकर चीन वालो को भी मार्सल आर्ट सिखाया था! यदि आप सोच रहे है की मार्सल आर्ट की शुरुवात चीन से हुई है तो आप गलत सोच रहे है क्योकि मार्सल आर्ट की सुरुवात भारत से हुई थी! भारत की दें है की चीन को भी मार्सल आर्ट की जानकारी हुई!

यह भी देखें : गणतंत्र दिवस पर शायरी

मेरा देश Essay In Hindi

मेरा देश भारत शिव, पार्वती, कृष्ण, हनुमान, बुद्ध, महात्मा गाँधी, स्वामी विवेकानंद और कबीर आदि जैसे महापुरुषों की धरती है। ये एक ऐसा देश है जहाँ महान लोगों ने जन्म लेकर बड़े कार्य किये। मैं अपने देश को बहुत प्यार करता हूँ और इसे सलाम करता हूँ। ये अपने सबसे बड़े लोकतंत्र और विश्व की सबसे प्राचीन सभ्यता के लिये प्रसिद्ध है। चीन के बाद ये दुनिया की सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश है। ये एक ऐसा देश है जहाँ कई धर्मों और संस्कृति के शालीन लोग एक साथ रहते हैं। ये महान योद्धाओं का देश है जैसे राणा प्रताप, लाल बहादुर शास्त्री, जवाहर लाल नेहरु, महात्मा गाँधी, सरदार पटेल, सुभाष चन्द्र बोस, भगत सिंह, लाला लाजपत राय आदि। देश के ये सभी महान नेता गाँवो से आये और देश को आगे की ओर ले गये। इन लोगों ने कई वर्षों तक संघर्ष किया और ब्रिटिश शासन से देश को आजाद कराया।

ये एक समृद्ध देश है जहाँ साहित्य, कला और विज्ञान के क्षेत्र में महान लोगों ने जन्म लिया जैसे रविन्द्रनाथ टैगोर, सारा चन्द्रा, प्रेमचन्द, सी.वी.रमन, जगदीश चन्द्र बोस, ए.पी.जे अब्दुल कलाम, कबीर दास आदि। भारत के ऐसे महान लोगों ने देश को गौरान्वित किया है। ये एक ऐसा देश है जहाँ पर नियमित प्रसिद्ध नदी और महासागर बहती है जैसे गंगा, यमुना, गोदावरी, नर्मदा, ब्रह्मपुत्र, कृष्णा, कावेरी, बंगाल की खाड़ी, अरेबिक सागर आदि। भारत एक सुंदर देश है जो तीन तरफ से महासागरों से घिरा है। ये एक ऐसा देश है जहाँ लोग बौद्धिक और आध्यात्मिक होते हैं साथ ही वो देवी-देवताओं में भी भरोसा करते हैं।

मेरा सपनो का भारत – हमारा भारत वर्ष पर निबंध

भारत मेरी मातृभूमि है और मैं इसे बहुत प्यार करता हूँ। भारत के लोग स्वभाव से बहुत ही ईमानदार और भरोसेमंद होते हैं। विभिन्न संस्कृति और परंपरा के लोग बिना किसी परेशानी के एक साथ रहते हैं। मेरे देश की मातृ-भाषा हिन्दी है हांलाकि बिना किसी बंधन के अलग-अलग धर्मों के लोगों के द्वारा यहाँ कई भाषाएँ बोली जाती हैं। भारत एक प्राकृतिक सुंदरता का देश है जहाँ समय-समय पर महान लोग पैदा हुए हैं और महान कार्य किये। भारतीयों का स्वाभाव दिल को छू लेने वाला होता है और दूसरे देशों से आये मेहमानों का वो दिल से स्वागत करते हैं।

भारत में जीवन के भारतीय दर्शन का अनुसरण किया जाता है जो सनातन धर्म कहलाता है और यहाँ विविधता में एकता को बनाए रखने के लिये मुख्य कारण बनता है। भारत एक गणतांत्रिक देश है जहाँ देश की जनता को देश के बारे में फैसले लेने का अधिकार है। यहाँ देखने के लिये प्राचीन समय के बहुत सारे अति सुंदर प्राकृतिक दृश्य, स्थल, स्मारक, ऐतिहासिक धरोहर आदि है जो विश्व के हर कोने के लोगों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं। भारत अपने आध्यात्मिक कार्यों, योगा, मार्शल आर्ट आदि के लिये बहुत प्रसिद्ध है। भारत में दूसरे देशों से भक्तों और तीर्थयात्रियों की एक बड़ी भीड़ यहाँ के प्रसिद्ध मंदिरों, स्थलों और ऐतिहासिक धरोहरों की सुंदरता को देखने आती हैं।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*