शायरी (Shayari)

प्यार मोहब्बत की शायरी | इश्क मोहब्बत के शेर व ग़ज़ल 2 लाइन

Pyar Mohabbat Ki Shayari | Ishq Mohabbat Ke Sher Va Ghazal 2 Line : इस दुनिया में ज्यादातर लोग प्यार करते है और कई लोगो को उनका प्यार नसीब हो जाता है और कई लोगो को नहीं होता | आजकल के समय में इंटरनेट के अधिक इस्तेमाल की वजह से लोग अपने पार्टनर को शायरियो के माध्यम से खुश करना चाहते है जिसके लिए वह इंटरनेट पर प्यार मोहब्बत से रिलेटेड शायरियां भी सर्च करते है | इसीलिए हम उन लोगो के लिए उनके लव के ऊपर कुछ दिल छूने वाली शायरियो के बारे में जानकारी देते है जो की आपके लिए काफी महत्वपूर्ण होती है जिन्हे आप फेसबुक, व्हाट्सएप्प जैसी वेबसाइट पर अपने लवर को शेयर कर सकते है |

यह भी देखे : शायरी खूबसूरती पर

शायरी मोहब्बत भरी

अगर आप प्यार मोहब्बत के ऊपर कुछ बेहतरीन शेरो-शायरियां Hindi, Urdu, या Punjabi Language Font में या pyar mohabbat shayari collection pyar mohabbat shayari image Wallpaper प्यार मोहब्बत की शायरी डाउनलोड जानना चाहे तो यहाँ से जान सकते है :

बहुत लिखी खुदा ने लोगों की तकदीर में मोहब्बत,
जब हमारी बारी आई तो स्याही खत्म हो गई.

आग़ाज़-ए-मोहब्बत से अंजाम-ए-मोहब्बत तक
गुज़रा है जो कुछ हम पर तुम ने भी सुना होगा

मोहब्बत की हकीकत से हम भी वाकिफ थे दोस्तो..!!
वो तो यूँ ही बस जरा शोक हुआ था….!! ज़िंदगी बर्बाद करने का….!!

प्यार मोहब्बत आशिकी.ये बस अल्फाज थे.
मगर.. जब तुम मिले तब इन अल्फाजो को मायने मिले

जाने क्या बात है तेरी आँखों में
के हर पल हम इसमें डूबे रहते हैं

अब तक दिल-ए-ख़ुश-फ़हम को तुझ से हैं उमीदें
ये आख़िरी शमएँ भी बुझाने के लिए आ

आँखें जो उठाए तो मोहब्बत का गुमाँ हो
नज़रों को झुकाए तो शिकायत सी लगे है

मुहब्बत में झुकना कोई अजीब बात नहीं,
चमकता सूरज भी तो ढल जाता है चाँद के लिए !!

सब तेरी मोहब्बत की इनायत है,
वरना मैं क्या मेरा दिल क्या मेरी शायरी क्या…

ना हीरो की तमन्ना है और ना परियो पे मरता हूँ
वो एक भोली सी लड़की है जिससे मे मोहब्बत करता हूँ

यह भी देखे : Zakhmi Dil ki shayari

मोहब्बत की गजल – Pyar Mohabbat Shayari Facebook

रख लूँ नजर में चेहरा तेरा दिन रात इसी पे मरती रहूँ,
जब तक ये सासें चलती रहे मैं तुमसे मोहब्बत करती रहूँ…

अभी आए अभी जाते हो जल्दी क्या है दम ले लो
न छोड़ूँगा मैं जैसी चाहे तुम मुझ से क़सम ले लो

मोहब्बत की आजमाइश दे दे कर थक गया हूँ ऐ खुदा.
किस्मत मेँ कोई ऐसा लिख दे.जो मौत तक वफा करे.

तेरी मुस्कुराहट से शुरू हो कर, मेरे आंसुओं पर खत्म हुई..
कितनी दिलचस्प है, कहानी हमारी मोहब्बत की…!

काश तुझे सर्दी के मौसम मे लगे मुहब्बत की ठंड,
और तू तड़प कर माँगे मुझे कम्बल की तरह..!

उतर जाते है दिल मे कुछ लोग इस कदर
उनको निकालो तो जान निकल जाती है

वो जिस दिन करेगा याद मेरी मोहब्बत को
रोयेगा बहुत खुद को बेवफा कह कर

आग़ाज़-ए-मोहब्बत का अंजाम बस इतना है
जब दिल में तमन्ना थी अब दिल ही तमन्ना है

आज देखा है तुझ को देर के बअ’द
आज का दिन गुज़र न जाए कहीं

कमाल की मोहब्बत थी उसको हम से
अचानक ही शुरू हुई और बिन बतायें ही ख़त्म

शायरी मोहब्बत भरी

इश्क की शायरी – इश्क वाली शायरी

एक चाहत थी तेरे साथ जीने की !
वरना मोहब्बत तो किसी से भी हो सकती थी !!

जख्म खरीद लाया हूँ बाजार- ए- दर्द से,
दिल जिद कर रहा था मुझे मोहब्बत चाहिए!!

मेरी महोब्बत के अपने ही उसुल है.
तुम करो न करो पर मुझे साँसो के टुटने तक रहेगी.

मिलने को तो दुनियाँ मे कई चेहरे मिले
पर तुझ सी मोहब्बत तो हम खुद से भी ना कर पाये

किसी के प्यार को पा लेना ही मोहब्बत नही होती
किसी के दूर रहने पर उसको पल पल याद करना भी मोहब्बत होती है

मोहब्बत करने में चंद लम्हे लगते है !
चोट खा कर भूलने में पूरी जिन्दगी लग जाती है !!

मेरी पागल सी मोहब्बत तुम्हे बहुत याद आयेगी . . . . .
जब हँसाने वाले कम और रुलाने वाले ज्यादा होँगेँ. . . .

आख़री हिचकी तिरे ज़ानूँ पे आए
मौत भी मैं शाइराना चाहता हूँ

जहर से अधिक खतरनाक हैं यह प्यार
जो भी चख ले मर मर के जीता हें

बहुत रोका लेकिन रोक ही नहीं पाया,
मुहब्बत बढ़ती ही गयी मेरे गुनाहों की तरह

यह भी देखे : दिल टूटने वाली शायरी

मोहब्बत के शेर – मोहब्बत शायरी 2 लाइन – Pyar Mohabbat Shayari 2 Lines

जुदा तो एक दिन, सांसे भी हो जाती हैं..
पगली.. और तुझे सिर्फ़, महोब्बत से शिकवा है..!

बड़ा गजब किरदार है मोहब्बत का,
अधूरी हो सकती है मगर ख़तम नहीं !!

कमाल की मोहब्बत थी उनको हमसे
अचानक सुरू हुई अचानक ख़त्म हो गई

फिर कभी नहीं हो सकती मुहब्बत सुना तुमने !!!
वो शख्स भी एक था और मेरा दिल भी एक ।

“तुम अगर भूल भी जाओ तो ये हक है तुमको,
मेरी बात और है…मैंने तो मोहब्बत की है।”

मोहब्बत मेँ कभी कोई जबरदस्ती नहीँ होती,
जब तुम्हारा जी चाहे तुम बस मेरे हो जाना.

ना शौक दीदार का… ना फिक्र जुदाई की,
बड़े खुश नसीब हैँ वो लोग जो…मोहब्बत नहीँ करतेँ…

हमारा दिल बहुत ज़ख़्मी है लेकिन…!
मुहब्बत सर उठा के जी रही है…!!

जिस जिस को मिली खबर सबने एक ही सवाल किया मुझसे,
तुमने क्यों की मुहब्बत तुम तो समझदार थे…!!

कोई ठुकरा दे तो हँसकर जी लेना,
क्यूँकि मोहब्बत की दुनिया में ज़बरदस्ती नहीं होती…

इश्क मोहब्बत के शेर व ग़ज़ल 2 लाइन

इश्क मोहब्बत की शायरी – Pyar Mohabbat Shayari In Hindi

नाकामयाब मोहब्बत ही सच्ची होती है !!
कामयाब होने के बाद मोहब्बत नहीं बचती !!

मुहब्बत का ये क ख ग हमे ही क्योँ नही आता,
यहा जिससे मिलो वो इश्क के किस्से सुनाता है…

कहीं से मिल जाते वो अल्फाज़ हमें भी,
जो तुझे बता देते के हम शायर कम तेरे आशिक ज्यादा हैं ॥

अब जुदाई के सफ़र को मिरे आसान करो
तुम मुझे ख़्वाब में आ कर न परेशान करो

काश कही से मिल जाते वो अल्फ़ाज़ हमे भी जो
तुझे बता सकते की हम शायर कम तेरे आशिक ज्यादा है !!

मोहब्बत कैसी भी हो कसम से
सजदा करना सिखा देती है

मोहब्बत करने वालों की कमी नहीं है दुनिया में,
अकाल तो निभाने वालों का पडा है साहब!!!

वादो से बंधी जंजीर थी जो तोड दी मैँने
अब से जल्दी सोया करेंगे , मोहब्बत छोड दी मैँने

कमाल की मोहब्बत थी उसको हम से …….
अचानक ही शुरू हुई और बिन बतायें ही ख़त्म …!!”

अब मिरी बात जो माने तो न ले इश्क़ का नाम
तू ने दुख ऐ दिल-ए-नाकाम बहुत सा पाया

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top