शायरी (Shayari)

दिल टूटने वाली शायरी

Dil Tutne Wali Shayari : इस दुनिया में प्यार के अलावा कुछ नहीं है और यह दुनिया प्यार की मोहताज़ है इसीलिए इस दुनिया में सभी लोग प्यार करने ही आते है कुछ ऐसे खुशनसीब होते है जिनको उनका सच्चा प्यार मिल जाता है और कुछ ऐसे होते है जिनको उनका प्यार नहीं मिल पाता | कई लोग ऐसे भी होते है जिसमे की उनका प्यार उनसे दूर चला जाता है जिसकी वजह से उनका दिल भी टूट जाता है इसीलिए कई शायर ऐसे होते है जो की टूटे दिल पर भी कई तरह की शायरियां करते है इसीलिए हम आपको टूटे दिल के ऊपर कुछ महत्वपूर्ण शायरियो के बारे में बताते है |

यह भी देखे : शायरी ऑन टीचर्स इन हिंदी

टूटा हुआ दिल शायरी

Tuta Hua Dil Shayari : टूटे हुए दिल से जो शायरिया निकलती है उनकी जानकारी पाने के लिए आप नीचे बताई गायब शयराइयो को पढ़ सकते है :

हमें कोई ग़म नहीं था, ग़म-ए-आशि़की से पहले,
न थी दुश्मनी किसी से, तेरी दोस्ती से पहले

है तमन्ना फिर, मुझे वो प्यार पाने की…….
दिल है पाक मेरा , ना कोशिश कर आज़माने की

अंजान अगर हो तो गुज़र क्यूँ नहीं जाते…
पहचान रहे हो तो ठहर क्यूँ नही जाते

हमसे मत पूछिए जिंदगी के बारे में
अजनबी क्या जाने अजनबी के बारे में

एक‬ सफ़र हमने ज़िंदगी का ऐसा भी किया
पांव की जगह दिल को ही दुखा दिया

हमे पता था की उसकी मोहब्बत में ज़हर हैं ;
पर उसके पिलाने का अंदाज ही इतना प्यारा था की हम ठुकरा ना सके

तेरे रोने से उन्हें कोई फर्क नही पड़ता ऐ दिल,,,,.
जिनके चाहने वाले ज्यादा हो वो अक्सर बेदर्द हुआ करते हैं

हमें तो प्यार के दो लफ्ज ही नसीब नहीं,
और बदनाम ऐसे जैसे इश्क के बादशाह थे हम

हमें ए दिल कहीं ले चल … बड़ा तेरा करम होगा
हमारे दम से है हर गम …न होंगे हम और ना गम होगा

अंदर से तो कब के मर चुके है हम,
ए मौत तू भी आजा लोग सबूत मांगते है

यह भी देखे : उत्साहवर्धक शायरी

दिल टूटने का दर्द

Dil Tutne Ka Dard : दिल टूटने का दर्द क्या होता है ? इसे तो आप जिसका दिल टूटा हो उसी से जान सकते है इसीलिए उसके ऊपर भी कई प्रकार की शायरियां बानी है जिन शायरियो को जानने के लिए नीचे बताई गयी जानकारी को पढ़ सकते है :

मुझे भी ज़िन्दगी में तुम ज़रूरी मत समझ लेना,
सुना है तुम ज़रूरी काम अक्सर भूल जाते हो

तुम्हारे खुश होने के अंदाज से लगता है….
कुछ टुटा है बड़ी खामोशी से तेरे अन्दर

नाराज़ क्यों होते हो चले जाएंगे तुम्हारी ज़िन्दगी से दूर
जरा टूटे दुए दिल के टुकड़े उठा लेने दो

होठों ने सब बातें छुपा कर रखीं ……
आँखों को ये हुनर… कभी आया ही नहीं

तूने प्यार सौदा समझ के ही किया होता तो अच्छा होता.
मुनाफे के लिए ही सही तेरा प्यार थोडा तो सच्चा होता

हर मुलाक़ात पर वक़्त का तकाज़ा हुआ ;
हर याद पे दिल का दर्द ताज़ा हुआ

हमसे ना कट सकेगा अंधेरो का ये सफर…
अब शाम हो रही हे मेरा हाथ थाम लो

ये किस मोड़ पर, तुम्हे बिछड़ने की सूझी,
मुद्दतों बाद तो संवरने लगे थे….हम

कभी उनके नाम के पहले हर बार आते थे
पर अब आलम ये हैं कि उनके सपनो में भी नहीं आते

नमक तुम हाथ में लेकर, सितमगर सोचते क्या हो,,
हजारों जख्म है दिल पर, जहाँ चाहो छिड़क डालो

टूटा हुआ दिल शायरी

दिल का दर्द

Dil Ka Dard : दिल का दर्द बहुत बड़ा होता है और बहुत दर्दकारक होता है उनके ऊपर कुछ शायरियां जान सकते है इन सभी शायरियो को जानने के लिए आप इन शायरियो के द्वारा जान सकते है :

ये क्या सितम है‍,क्यूं रात भर सिसकता है
वो कौन है जो “दियों” में जला रहा है मुझे

हुनर-ओ-इश्क अब सीख कर आया हूँ………
चलो फिर से खेल दिल का खेलते है

हालात ने तोड़ दिया हमें कच्चे धागे की तरह…
वरना हमारे वादे भी कभी ज़ंजीर हुआ करते थे

नजर अंदाज करने कि कुछ तो वजह बताई होती,
अब में कहाँ कहाँ खुद में बुराई ढूँढू

हर ज़ुल्म तेरा याद है भूला तो नहीं हूँ,
ऐ वादा फरामोश मैं तुझ सा तो नहीं हूँ

वहां से पानी कि एक बूँद भी न निकली …
तमाम उम्र जिन आँखों को झील लिखते रहे हम

ये मोहब्बत है या नफरत कोई इतना तो समझाए,
कभी मैं दिल से लड़ता हूँ कभी दिल मुझ से लड़ता है

वो मंजर ही मौहब्बत में बड़ा दिलकश गुजरा,
किसी ने हाल ही पूछा था और आँखें भर आई

हमें भुलाकर सोना तो तेरी आदत ही बन गई है, अय सनम;
किसी दिन हम सो गए तो तुझे नींद से नफ़रत हो जायेगी

जब कोई ख्वाब अधुरा रह जाते हैं !
तब दिल के दर्द आंसु बनकर बाहर आते हैं

यह भी देखे : शायरी खूबसूरती पर

दिल से हिन्दी शायरी

Dil Se Hindi Shayari : अगर हमारा दिल टूट जाता है तो यह हमारे लिए बहुत बुरा होता है इसकी वजह से हमारा किसी भी काम में मन नहीं लगता इसीलिए आप कुछ महान शायरों की दिल से हिंदी शायरियां जान सकते है :

हाथ ज़ख़्मी हुए तो कुछ अपनी ही खता थी…..
लकीरों को मिटाना चाहा किसी को पाने की खातिर

जिस दिन खुद से दोस्ती हो जायेगी,
इस कमबख्त अकेलेपन से निजात मिल जायेगी

कितना नादान है ये दिल कैसे समझाऊ
तू जिसे खोना नहीं चाहता हो तेरा होना नहीं चाहता

जाने क्यूँ बरसने से, मुकर जाता है हर बार,
मेरे हिस्से में आया है, जो टुकड़ा बादल का

हमसे मत पूछिए जिंदगी के बारे में
अजनबी क्या जाने अजनबी के बारे में

ज़िंदगी चैन से गुज़र जाए…
गर तू ज़हन से उतर जाए

हालात की दलील देकर उन्होनें साथ छोङ़ा , तो हम आहत नहीं हुए ….,
सोचा हमसे ना सही , चलो किसी से तो वफ़ा निभाई उन्होने

तुम्हारा नाम लेने से मुझे सब जान जाते हैं…
मैं वो खोई हुई इक चीज हूँ जिसका पता तुम हो

दुखती रग पर ऊँगली रखकर पूछ रही हो कैसे हों …
तुमसे ये उम्मीद नहीं थी दुनिया चाहे जैसी हों

ओ दिल तोड़ने वाले इतना तो बताता जा,
की ये सजा प्यार करने की है या मेरी वफाओं की

Most Popular

you can contact us on my email id: harshittandon15@gmail.com

Copyright © 2016 कैसेकरे.भारत. Bharat Swabhiman ka Sankalp!

To Top