Ganesh Havan Vidhi In Hindi

Ganesh Mantra In Hindi

गणेश हवन विधि इन हिंदी : गणेश जी को विनायक, विघ्नेश्वर, गणपति, लंबोदर के नाम से भी जाना जाता है वह भगवान शिव और पार्वती जी के पुत्र श्री गणेश जी की पूजा हमारे हिन्दू धर्म में बड़ी ही धार्मिक विधि पूर्वक की जाती है | इसीलिए हम आपको गणेश जी की पूजा के बारे जाने उसी के माध्यम से आप गणेश जी का हवन कर सकते है | गणेश जी की पत्नी का नाम लक्ष्मी है जिनकी पूजा हम दिवाली के दिन करते है दिवाली के दिन बहुत से लोग गणेश जी और लक्ष्मी जी के लिए हवन भी करते है | हिन्दू धर्म में हाथी को गणेश जी का रूप माना जाता है और चूहे को उनकी सवारी और खाने में उन्हें लड्डू अत्यंत पसंद है इसीलिए उनका भोग हमेशा लड्डू से ही लगाना होता है जिसके भोग से आपकी पूजा सफल होती है और गणेश जी भी प्रसन्न होते है |

यह भी देखे : Basant Panchami Shayari

Ganesh Mantra In Hindi

गणेश मंत्र इन हिंदी : गणेश जी के हवन को करने के लिए आप इस मंत्र का उच्चारण करे और मंत्र को शुरू करने से पहले इस मंत्र का उच्चारण करे तभी हवन की शुरुआत करे :

Vakratunda Ganesha Mantra
श्री वक्रतुण्ड महाकाय सूर्य कोटी समप्रभा
निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्व-कार्येशु सर्वदा॥

Ganesha Shubh Labh Mantra
ॐ श्रीम गम सौभाग्य गणपतये
वर्वर्द सर्वजन्म में वषमान्य नमः॥

Ganesha Gayatri Mantra
ॐ एकदन्ताय विद्धमहे, वक्रतुण्डाय धीमहि,
तन्नो दन्ति प्रचोदयात्॥

यह भी देखे : हनुमान जी की पूजा कैसे करे

Ganesh Havan Vidhi In Hindi

Ganesh Havan Ke Liye Samagri List

गणेश हवन के लिए सामग्री लिस्ट : गणेश जी के हवन के लिए आप निम्न प्रकार की सामग्री की लिस्ट का प्रयोग कर सकते है जो की हवन में काम आती है :

  1. अग्नि, वेदी, हौंडा कुंड, यंत्र
  2. माचिस, अगरबत्ती
  3. करपुर या कैम्फर पैकेट, गंध पावडर
  4. श्री मुद्रा (संध्या वंदन के लिए) तीर्थ के लिए पतीला, यज्ञोपवीता
  5. पूजा शंक काउच, बेल, एक अरती (कर्पुर के लिए), दो आरती विक्स के साथ
  6. घी के लिए 4 कटोरे- चम्मच के साथ, राख के लिए 4 कटोरे
  7. आस्रात्र द्रव्य – नारियल के गुच्छे (1 पूरे नारियल), जो गुड़ के बने होते हैं

यह भी देखे : Vat Savitri Vrat

Ganesh Ji Ki Pooja Vidhi In Hindi

सबसे पहले हवन के लिए हवन कुंड तैयार करना होता है जिसमे की अपने अक्सर देखा होगा उसमे तीन सिद्धिया होती है इसका यह मतलब है क्योंकि इन तीनो सिद्धियो में तीन देवता निवास करते है :
हवन कुंड की पहली सीढि में विष्णु भगवान का वास होता हैं.
दूसरी सीढि में ब्रह्मा जी का वास होता हैं.
तीसरी तथा अंतिम सीढि में शिवजी का वास होता हैं

गणेश जी की पूजा विधि इन हिंदी : सबसे पहले गणेश जी के हवन के लिए आप हवन कुंड में आग जला कर रख ले उसके बाद उसमे धुप और देशी घी डाले और मंत्र का जाप करे फिर एक लकड़ी की चौकी, एक नारियल, चावल, आम के पत्ते, हल्दी मिश्रित अक्षत, चंदन, कुमकुम या सिंदूर, मौली, गंगाजल, पुष्प, तुलसीदल, दूर्वा, बिल्वपत्र, अगरबत्ती, दीपक (सरसों के तेल से जलायें ), रूई, कपूर, सफ़ेद कपड़ा, कुछ फल, प्रसाद आदि इन सब चीज़ो को हवन कुंड में मन्त्र के उच्चारण के साथ धीरे-2 गिराए और मन में ही गणेश जी को याद करे |

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*