हौसला शायरी

हौसला हो बुलंद

Hausla Shayari : आजकल लोग बात-2 पर शायरी बोलते है क्योकि कुछ ऐसे महान शायर हुए जिन्होंने कई शायरी लिखी है कई शायरी हमें प्रेरणा देती है और कई उत्साहवर्धक होती है जिनसे हम उत्साहित हो सकते है | इसीलिए अब हम आपको कुछ दिल छूने वाली हौसला शायरी बताते है जो कि आपके लिए हौसला देने वाली होती है | इसके अलावा आप उन्हें दो लाइन के शेर के रूप में भी पढ़ सकते है | वैसे इससे पहले हम आपको हिंदी में शायरी, पंजाबी शायरी, इस्लामिक शायरी और उर्दू में शायरी बता चुके है जो पढ़ कर आप और अधिक शायरियां जान सकते है |

यहाँ भी देखे : Shayari Ki Diary

हौसला हो बुलंद

Hausla Ho Buland : हौसले बुलंद होने पर कई शायरी जानना चाहे तो आप हमारे द्वारा बताई गयी कुछ बेहतरीन शायरियां देखे और अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे :

सीखा है मैंने दिये से खुद को बचाए रखना
आंधी और अँधेरों में भी होंसला बनाए रखना

जिनमें अकेले चलने का होंसला होता हैं,
उनके पीछे एक दिन काफिला होता हैं…!!!

न छोड़ होंसला ऐ दोस्त वो मंज़र भी आएगा,
प्यासे के पास चलकर खुद समंदर आएगा…!!!

मुस्कुराते रहो तो हर मुश्किल आसान हो जाती है।
मन में होंसला हो तो हर मंज़िल मिल जाती है।

यहाँ भी देखे : Bewafa Shayari

हौसला पर कविता

Hausla Par Kavita : हौसला बढ़ने के लिए कुछ प्रेरणादायक बाते सुन्नी होती है जिसके माध्यम से आप अपना हौसला बढ़ा सकते है इसीलिए ये कविताये पढ़ कर आप अपना हौसला बढ़ा सकते है :

गर्दीशों से ड़रकर तू होंसला ना हार ज़िन्दगी,
देख लेना लौटकर फिर आएगी बहार ज़िन्दगी ।.

जब होंसला बना लिया हे ऊँची उड़ान का,
फिर फ़िज़ूल हे कद देखना आसमान का।

यूँ ही तो खुश्क नहीं मेरी खामोश आँखें ,
मिला हूँ तुझ से बिछड़ने का होंसला ले कर

जिंदगी की उदास राहों पर कभी यूं भी होता है,,,
इंसान खुद रो पडता है, किसी हौंसला देते हुए.!!

हौसला शायरी

हौसला बढ़ाने वाली कविता

Hausla Badhane Wali Kavita : अगर आपको अपना या किसी और हौसला बढ़ाना हो तो आप हमारी शायरियो को पढ़े और अपना हौसला बढ़ा सकते है :

तू पँख ले ले मुझे सिर्फ़ होंसला दे दे..
फिर आँधियों को मेरा नाम और पता दे दे

दिल की उम्मीदों का होंसला तो देखो
इंतजार उसका जिसको अहसास तक नहीं

हर गम ने, हर सितम ने,नया होंसला दिया,
मुझको मिटाने वालो ने, मुझको बना दिया !

हो सकती है जिन्दगी में मोहोब्बत दोबारा भी..
बस होंसला चाहिए फिर से बर्बाद होने का

ये राहें ले ही जाएंगी मंज़िल तक होंसला रख,
कभी सुना है कि अंधेरो ने सवेरा होने ना दिया।

यहाँ भी देखे : Dosti Shayari

बुलंद शायरी

Buland Shayari : अगर आपके हौसले बुलंद होंगे तो निश्चित ही आपके सभी परेशानियां दूर हो जाएगी इसीलिए ये ऐसी ही कुछ हौसला बुलंद करने वाली शायरियां है जिन्हे आप पढ़ सकते है :

जी में आता है उलट दें उन के चेहरे से नक़ाब
हौसला करते हैं लेकिन हौसला होता नहीं

मन्ज़िल न दे चराग़ न दे हौसला तो दे
तिनके का ही सही तू मगर आसरा तो दे

बुलंद हो अज्म तो तारे भी तोड़ सकता है.
कठिन नही है कोई काम आदमी के लिए.

तूफान कर रहा था मेरे अज्म^ का तवाफ*,
दुनिया समझ रही थी कश्ती भंवर में है !!

समा जाता है सारा आसमां इक आँख के तिल में
किसी के अज्म को मत आँक उसके कद्दो क़ामत से

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*