नसों की कमजोरी का इलाज

नसों की कमजोरी का इलाज

Naso Ki Kamjori Ka Ilaj : हमारे शरीर का महत्वपूर्ण अंग मासपेशियाँ यानि नसे होती है जिससे की हमारे रक्त संचारित होती रहती है जो की हमें जिन्दा रहने के लिए बहुत उपयोगी होता है इसीलिए अगर आपको लगता है की आपकी नसे कमजोर होने लग गयी है तो आप हमारे बताये गए कुछ आसान से तरीके जिनके माध्यम से नसों की कमजोरी का इलाज संभव है आप आराम से कर सकते है जिससे की नसों में एक तरह की ऊर्जा आएगी और आपकी नसे एक सही क्रम से काम करना शुरू कर देंगी |

यहाँ भी देखे : किडनी स्टोन का इलाज़

नसों की कमजोरी के लक्षण

Naso Ki Kamjori Ke Lakshan : अगर आप नसों की कमजोरी से परेशां है तो आप हमारे इस आर्टिकल को पढ़ सकते है इसीसलिए हम आपको अभी कुछ लक्षण बताते है जो की आपकी नसों की कमजोरी को दूर करने में सहायक है :

  1. स्मरण-शक्ति का घट जाना
  2. सिर में चक्कर आना
  3. आंखों के आगे उठने-बैठने में अंधेरा छा जाये
  4. अपच
  5. अनिन्द्रा
  6. हदय-स्पंदन
  7. खून की कमी
  8. नसों के दर्द

यहाँ भी देखे : पथरी का इलाज़

नसों की कमजोरी के लक्षण

नसों की कमजोरी का इलाज इन हिंदी

Naso Ki Kamjori Ka Ilaj In Hindi : नसों की कमजोरी को दूर करने के लिए कुछ होम्योपैथिक दवाइयां भी फायदा पहुंचती है जिसके लिए हम आपको कुछ होम्योपैथिक औषधि बताते है जो की अत्यंत लाभप्रद सिद्ध हो सकती है :

नसों की कमजोरी का होमियोपैथिक इलाज

  • काली-फास 3x
  • कल्केरिया-फास 12x
  • नैट्रम-फास 3x
  • नैट्रम-म्यूर 3x
  • नैट्रम-सल्फ 3x
  • साइलीशिया 12
  • एनाकार्डियम 30

यहाँ भी देखे : हर्पिस रोग का इलाज

नसों के दर्द का इलाज

Naso Ke Dard Ka Ilaj : नसों की कमजोरी का सबसे बड़ा लक्षण नसों में दर्द ही होता है इसीलिए जब आपके नसों में अद्र्ध हो तो आप इन उपायों को करे जो की आपके नसों की कमजोरी तथा दर्द को दूर करने में सहयक सिद्ध होते है :

  • नसों की कंजोरी को दूर करने के लिए आप बेर की गुठलियों को गुड़ के साथ खाये जिससे की नसों में मज़बूती आएगी और शरीर बलवान बन जाता है |
  • नसों की कमजोरी को दूर करने के लिए आप गे का दूध के साथ मक्खन, मिश्री भी खा सकते है जिससे की कही हद तक नसों की कमजोरी में आराम मिलता है |
  • अश्वगन्धा 100 ग्राम, सतावर 100 ग्राम, बाहीपत्र 100 ग्राम, इसबगोल की भूसी 100 ग्राम, तालमिश्री 400 ग्राम इस सबका एक मिश्रण बना ले और उस मिश्रण को सुबह व शाम को दूध के साथ ले | लगभग एक महीने के प्रयोग से ही शरीर की रक्त क्षमता बढ़ जाती है |
  • मुनक्कों के सेवन से भी नसों की कमजोरी का इलाज होता है लेकिन इसका सेवन आपको सर्दियों के मौसम में ही करना है इसीलिए आप मुनक्कों को दूध में मिला कर सुबह शाम खाये |

You have also Searched for : 

नसों की बीमारी
नसों की दुर्बलता
शारीरिक कमजोरी को दूर करने के उपाय
ढीलापन का इलाज
शरीर की कमजोरी कैसे दूर करे
नसों का दबना

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*