कैसे करे शिव पूजा | शिव को प्रसन्न करने के उपाय

कैसे करे शिव पूजा

कैसे करे शिव पूजा : शिव यानी की भोले भंडारी को जग का रचयता भी कहा जाता है |पुराणों में भी लिखा गया है की शिव से बड़ा दुनिया में कोई दूजा नहीं है| शिव शंकर बहुत ही शीतल एवं भोले होते हैं, उनको सबसे दयालु भी मन गया है, यदि कोई भक्त सच्चे मन से शिव की अर्चना करे तो भोले बाबा प्रसन्न हो जाते हैं लेकिन हम सब यह भी जानते हैं की अगर एक बार भोलेनाथ क्रोधित हो जाएँ तो पूरी सृष्टि का विनाश कर सकते हैं | तो आज हम आपको बताएँगे शिवजी को को प्रसन्न करने के अचूक उपाय जिसमें शिव पूजा के उपाय, शिव पूजन सामग्री,शिव अभिषेक विधि हैं|

यह भी देखें : कैसे करे कन्या पूजन

शिव को प्रसन्न करने के उपाय

शिव का प्रमुख दिन सोमवार माना गया है| सोम इसलिए क्योंकि सोम यानी की चंद्रमा जो की उनकी जाता में विराजे हुए हैं| शिवपुराण में भी लिखा है की शिव की कृपा से सांसारिक एवं मानसिक पीड़ा समाप्त हो सकती है| तो आइये जाने उपाय जिनसे आप आसानी से शिव को प्रसन्न कर सकते हैं |

  • भगवान् शिव को दैनिक निहलाएं और नहलाने के बाद उनपर जल अर्पित करें |
  • भगवान शिव पर चावल चढाने से धन प्राप्ति होती है|
  • गेहूं चढ़ाने से संतान वृद्धि की प्राप्ति होती है|
  • घर में शान्ति बनाये रखने के लिए शिव पर दुग्ध चढ़ाएं|
  • भोले नाथ पर गंगाजल चढ़ाने से भोग एवं मोक्ष प्राप्ति होती है|

शिव को प्रसन्न करने के उपाय

शिव पूजन सामग्री

अब ये जानते हैं की शिव पूजा में कोण कोण सी सामग्री का महत्त्व है और किस सामाग्री का प्रयोग किया जाना चाहिए |

शिवजी की मूर्ती को स्नान कराने के लिए ताँबे का लोटा का ही इस्तेमाल करेंदुग्ध से बी स्नान करा सकते हैं| और सामग्री जैसे की पंचामृत (दूध, दही, घी, शहद व शक्कर),चावल, दीपक, तेल, रुई, धूपबत्ती, चंदन, धतूरा, अकुआ के फूल, बिल्वपत्र, जनेऊ, फल, मिठाई, अष्टगंध, नारियल, सूखे मेवे, पान भी शिवजी के लिए प्रयोग की जा सकते है |

शिव पूजन सामग्री

शिव पूजा विधि : शिव अभिषेक विधि

आइये अब जानते हैं की शिव पूजा की विधि अर्ताथ भगवान भोलेनाथ की अभिषेक विधि जिससे आप भोले नाथ को प्रसन्न कर सकते हैं | शिव पूजा के उपाय जानें जिससे शिव जी की पूजा की जा सकती है |

  1. सबसे पहले शिव जी की पूजा करने के लिए आप भोले नाथ को स्नान कराएं, स्नान कराने के लिए ताँबे के लोटे का इस्तेमाल करे जिसमे आप दुग्ध या शुद्ध पानी का इस्तेमाल कर सकते हैं|
  2. इसके बाद शिव जी को स्नान कराने के बाद आप उनको वस्त्र पहनाएं |
  3. शिव जी को वस्त्र पहनाने के बाद उनके साथ माता पार्वती व् गणेश जी की पूजा भी करें |
  4. अब शिव जी को धुप एव नैवेध चढाएं |
  5. शिव जी पर फूल अर्पित करें | शिव पूजन के लिए सफ़ेद फूल का ही इस्तेमाल करें सफ़ेद फूल शिव को प्रिय हैं |
  6. अब शिव की आरती करें और माल पर यह जाप जपें : ऐं ह्रीं श्रीं ऊं नम: शिवाय: श्रीं ह्रीं ऐं | एवं ॐ महाशिवाय सोमाय नमः |

यह भी देखें : मन की शांति का मंत्र

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*